उत्तराखंड: बेटी पैदा होने की खुशी में मां पूर्णागिरी दर्शन के लिए गया पिता...हादसे में हुई मौत

सितारगंज में हुए दर्दनाक सड़क हादसे में 23 साल के युवक की मौत हो गई, युवक की शादी को अभी एक साल भी नहीं हुआ था।

man died in an accident in poornagiri uttarakhand - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, मां पूर्णागिरी मंदिर उत्तराखंड, सितारगंज, पंतनगर न्यूज, Uttarakhand, Uttarakhand News, Mother Puranagiri Temple Uttarakhand, Sitarganj, Pant Nagar News, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

अभी उसकी बेटी ने इस दुनिया में कदम ही रखा था....अभी तो उसे पिता की अंगुली थाम कर चलना सीखना था, पिता-बेटी को जीवन की खुशियां बटोरनी थीं, लेकिन अफसोस की ऐसा हो ना सका। क्रूर नियति ने पिता को नन्हीं बेटी से छीन लिया....दर्दनाक सड़क हादसे में पिता की मौत हो गई। घटना सितारगंज की है, जहां बेटी के जन्म के बाद अपने दोस्त संग पूर्णागिरी मंदिर जा रहे युवक को निजी बस ने रौंद दिया, हादसे में युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका दोस्त गंभीर रूप से घायल है। घायल युवक को इलाज के लिए हल्द्वानी के सुशीला तिवारी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। पुलिस ने बस को सीज कर दिया है। मृतक की शिनाख्त 23 वर्षीय गोमती प्रसाद के रूप में हुई है, वो पंतनगर की झा कॉलोनी में रहता था। गोमती प्रसाद पंतनगर यूनिवर्सिटी में फसल अनुसंधान केंद्र में कार्यरत था। 12 दिन पहले ही गोमती प्रसाद की बेटी हुई है। बेटी के जन्म के बाद घरवाले बेहद खुश थे....नन्हीं बच्ची के आने से गोमती प्रसाद की मनचाही मुराद पूरी हो गई थी, वो बेटी के होने से बेहद खुश था।

यह भी पढें - पहाड़ में भीषण हादसा...300 मीटर गहरी खाई में गिरी गाड़ी, 8 लोगों की मौत, 13 घायल !
बेटी के जन्म के बाद वो मां पूर्णागिरी के दर्शन के लिए बाइक से जा रहा था, बाइक पर गोमती प्रसाद के साथ उसका दोस्त हसनैन अली भी था। देर रात करीब एक बजे खटीमा हाईवे पर तेज रफ्तार से आ रही निजी बस ने बाइक को टक्कर मार दी। हादसे में गोमती प्रसाद की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि उसका दोस्त गंभीर रूप से घायल हो गया। बताया जा रहा है कि निजी बस नेपाल से दिल्ली जा रही थी। गोमती प्रसाद की मौत के बाद उसके परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। युवक की शादी को अभी एक साल भी नहीं हुआ था। पिछले साल 12 मई को उसकी शादी हुई थी, 12 दिन पहले ही पत्नी ने बेटी को जन्म दिया था। मृतक के परिजनों ने बताया कि युवक के पिता की छह साल पहले हादसे में मौत हो गई थी। पिता की मृत्यु के बाद गोमती प्रसाद को आश्रित कोटे से नौकरी मिली थी। उसके परिवार में पत्नी, कक्षा नौ में पढ़ने वाली बहन कर्मावती और पांचवीं में पढ़ने वाला भाई अक्षय कुमार हैं। वह मूलरूप से गोंडा जिले के थाना खुलाड़े के गांव पूरेभरवा (अज्ञा बुजुर्ग) का रहने वाला था। युवक की मौत के बाद उसकी बेटी और भाई-बहन को देखने वाला कोई नहीं है, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। बहरहाल पुलिस ने शव परिजनों को सौंप कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।


Uttarakhand News: man died in an accident in poornagiri uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें