देहरादून के डाकपत्थर बैराज में डूबे 3 अनाथ बच्चे...एक की जान बची दो अब भी लापता

अपने साथियों के साथ टूर पर विकासनगर आए तीन अनाथ बच्चे बैराज में डूब गए, इनमें से एक बच्चे को बचा लिया गया है लेकिन दो बच्चे अब भी लापता हैं।

BOY DROWNED IN DAKPATHAR BARRAGE - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, ब्रेकिंग न्यूज उत्तराखंड, बड़ी खबर उत्तराखंड, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Breaking News Uttarakhand, Big News Uttarakha, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के विकासनगर में दर्दनाक हादसा हुआ है, यहां अपने साथियों के साथ टूर पर आए तीन अनाथ-बेसहारा बच्चे डाकपत्थर बैराज में डूब गए, इनमें से एक छात्र को किसी तरह बचा लिया गया है, लेकिन दो छात्र अब भी लापता हैं। उनका कुछ पता नहीं चल पाया है। लापता छात्रों की तलाश में पुलिस ने बैराज में देर शाम तक सर्च अभियान भी चलाया, लेकिन उनका सुराग नहीं लगा। बताया जा रहा है कि यूपी के मुजफ्फरनगर में अलजहरा चैरिटेबल फाउंडेशन की तरफ से 170 बच्चे टूर पर विकासनगर आए थे। 3 बसों में सवार बच्चे रात्रि विश्राम के लिए इमामबाड़ा अंबाडी पहुंचे थे। इसी दौरान कुछ बच्चे नहाने के लिए बैराज चले गए। नहाने के दौरान तीनों लड़के पानी में डूबने लगे, उनकी चीख-पुकार सुनकर स्थानीय युवक मौके पर पहुंचे। इनमें से एक लड़के को तो बचा लिया गया दो लड़के पानी में डूब गए।

यह भी पढें - उत्तराखंड: नदी में गिरी कार, कांस्टेबल समेत दो लोग अब तक लापता
बचाए गए बच्चे को इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। बताया जा रहा है कि अलजहरा चैरिटेबल फाउंडेशन अनाथ बच्चों की देखभाल का काम करता है, साथ ही उनकी शिक्षा के लिए भी इंतजाम करता है। बैराज में हुए हादसे का शिकार तीनों बच्चे अनाथ हैं, और उनकी देखभाल ट्रस्ट कर रहा था। पुलिस और जल पुलिस पानी में डूबे बच्चे की तलाश में जुटी है। अचानक हुए इस हादसे से स्थानीय लोग दुखी हैं, लापता बच्चों की तलाश की जा रही है। लोग ये सवाल भी पूछ रहे हैं कि जिस ट्रस्ट पर बच्चों की देखभाल की जिम्मेदारी थी, उसके किसी कर्मचारी-अधिकारी ने बच्चों को बैराज में जाने से क्यों नहीं रोका। बिना किसी की अनुमति के बच्चे बैराज में नहाने कैसे चले गए। अगर ट्रस्ट और बैराज के कर्मचारियों ने बच्चों को बैराज की तरफ जाने से रोक लिया होता, तो शायद वो हादसे का शिकार नहीं होते।


Uttarakhand News: BOY DROWNED IN DAKPATHAR BARRAGE

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें