रुद्रप्रयाग: नाराज छात्रों को मनाने खुद कॉलेज पहुंचे डीएम मंगेश घिल्डियाल

कॉलेज की अव्यवस्थाओं से नाराज छात्रों को मनाने के लिए डीएम मंगेश घिल्डियाल खुद कॉलेज पहुंचे। इस दौरान उन्होंने छात्रों से वोट देने की भी अपील की।

DM MANGESH GHILDIYAL ADDRESS STUDENTS - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, रुद्रप्रयाग, रुद्रप्रयाग न्यूज, मंगेश घिल्डियाल, डीएम मंगेश घिल्डियाल, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Rudraprayag, Rudrapr, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

वैसे ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है, जब पहाड़ में कोई जिलाधिकारी नाराज छात्रों की समस्या को सुलझाने के लिए खुद ही कॉलेज पहुंच गया हो। रूद्रप्रयाग के डिग्री कॉलेज में अव्यवस्थाओं से नाराज छात्रों ने डीएम को इस बारे में पत्र लिखा। छात्रों की मांगें जायज थी, उनमें कॉलेज की बदहाली को लेकर गुस्सा था। डीएम ने छात्रों की इस समस्या को समझा और नाराज छात्रों को मनाने के लिए खुद कॉलेज पहुंच गए। डीएम मंगेश घिल्डियाल ने कॉलेज पहुंचकर नाराज छात्र-छात्राओं को समझा-बुझाकर शांत कराया।उन्होंने छात्रों को खूब समझाया और आश्वासन दिया कि प्रशासन छात्रों के साथ है, और उनकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले रुद्रप्रयाग कॉलेज के छात्रसंघ अध्यक्ष आशीष कप्रवान ने डीएम को पत्र लिख कर छात्रों की समस्याओं से अवगत कराया था। छात्रों ने कहा कि कॉलेज में पर्याप्त कक्षों की व्यवस्था नहीं है।

यह भी पढें - उत्तराखंड को चाहिए ऐसे जिलाधिकारी, रुद्रप्रयाग की ये तस्वीर बहुत कुछ कहती है !
छात्रों का कहना था कि कॉलेज में पुस्तकालय नहीं है, बीएससी कक्षाओं का संचालन नहीं हो रहा, जिस वजह से छात्रों को ये कॉलेज छोड़ कर दूसरे कॉलेजों में एडमिशन लेना पड़ रहा है। छात्रों के विरोध को देखते हुए खुद डीएम उन्हें मनाने के लिए कॉलेज पहुंचे थे। उन्होंने छात्रों को कहा कि ये विरोध का वक्त नहीं है। उन्होंने छात्रों से 11 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव में वोट देने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि ये वक्त नाराजगी का नहीं है, बल्कि लोगों को मतदान के लिए जागरूक करने का है। छात्रों को खुद भी वोट देना चाहिए और साथ ही लोगों को भी वोटिंग के लिए आगे आने के लिए प्रेरित करना चाहिए। मतदान का विरोध हमें अपने कर्तव्यों से पीछे हटने का संदेश देता है। अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए विरोध करना जनता का अधिकार है, किंतु लोकतंत्र में मतदान ही एक ऐसा अवसर है जब हमें अपना भविष्य तय करना है। डीएम मंगेश घिल्डियाल ने छात्रों को समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया, तब कहीं जाकर छात्र शांत हुए।


Uttarakhand News: DM MANGESH GHILDIYAL ADDRESS STUDENTS

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें