देहरादून में मचा हड़कंप, सड़क किनारे पड़े मिले द्वितीय विश्व युद्ध के 40 कारतूस

देहरादून में ओल्ड मसूरी रोड पर पुलिस को सेकेंड वर्ल्ड वॉर के 40 कारतूस मिले हैं। ये कारतूस किसने फेंके और कारतूस फेंकने का मकसद क्या था इस बारे में फिलहाल पता नहीं चल पाया है।

Second world war cartridge found dehradun - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड शहीद, राहुल गांधी उत्तराखंड, देहरादून, देहरादून न्यूज, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarakhand Shahid, Rahul, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

देहरादून में सेकेंड वर्ल्ड वॉर के 40 कारतूस मिलने से हड़कंप मच गया। सड़क किनारे कारतूस पड़े होने की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और कारतूसों को अपने कब्जे में ले लिया। इन कारतूसों को किसने और क्यों सड़क किनारे फेंका, इस बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। पुलिस ने कारतूस फेंकने वाले अज्ञात शख्स के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है, पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। मामला ओल्ड मसूरी रोड का है, जहां राजपुर थानाध्यक्ष नत्थीलाल उनियाल सिपाहियों के साथ गश्त कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें सड़क किनारे कोई चमकीली चीज पड़ी हुई मिली। वो पास गए तो देखा कि वो चमकीली चीज कारतूस थी, वहां और भी कई कारतूस बिखरे पड़े थे, ये देख पुलिस के होश उड़ गए। पुलिस ने दूर तक बिखरे कारतूसों को अपने कब्जे में ले लिया। कारतूसों की संख्या 40 बताई जा रही है।

यह भी पढें - उत्तराखंड आने वाले हैं बीजेपी के दिग्गज, मोदी-शाह के साथ योगी भी उतरेंगे मैदान में!

1/1 ये हैं वो कारतूस जिसके बाद से देहरादून में हड़कंप मचा हुआ है
cartridge found dehradun

पुलिस ने इस बारे में आसपास घास काटने वाले लोगों से भी पूछताछ की है, लेकिन उन्होंने भी इस संबंध में कोई जानकारी ना होने की बात कही। बरामद कारतूस .30 बोर के हैं। पुलिस ने कारतूस को सील करा कर अज्ञात के खिलाफ आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती का कहना है कि यह कारतूस द्वितीय विश्वयुद्ध के समय के हैं। पुलिस आस-पास के सीसीटीवी की फुटेज चेक कर रही है, ताकि कारतूस फेंकने वाले का पता लगाया जा सके।


Uttarakhand News: Second world war cartridge found dehradun

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें