DM मंगेश घिल्डियाल का बेमिसाल काम...पहाड़ में बच्चों के लिए निशुल्क कोचिंग सेंटर शुरू

कहते हैं कि किसी भी जिले की तरक्की के लिए जिलाधिकारी का विशेष योगदान होता है। ऐसे ही एक जिलाधिकारी हैं मंगेश घिल्डियाल

DM MANGESH GHILDIYAL STARTED COATCHING CENTER IN RUDRAPRAYAG - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, मंगेश घिल्डियाल, रुद्रप्रयाग, रुद्रप्रयाग न्यूज,Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Mangesh Ghildiyal, Rudraprayag, Rudraprayag, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

अब तक ये ही देखा जाता रहा है कि पहाड़ के बच्चे शहरों में जाते हैं और फिर वहां प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग के लिए दर दर भटकते हैं। अच्छी पहल तो ये होगी कि पहाड़ में बच्चों के लिए निशुल्क कोचिंग सेंटर शुरू किए जाएं, जिससे उनके और उनके परिवार का लंबा चौड़ा खर्चा बच सके। आपके लिए अच्छी बात ये है कि रुद्रप्रयाग जिले के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल लगातार इस दिशा में काम कर रहे हैं। रुद्रप्रयाग जिले के दूरस्थ क्षेत्रों के छात्र छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की कोशिशों का नतीजा है कि अप्रब राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में एक निशुल्क कोचिंग सेंटर खोला गया है। इस कोचिंग सेंटर का नाम ‘प्रेरणा’ दिया गया है। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल द्वारा इस सेंटर का उद्घाटन किया गया। उन्होंने इस बारे में कुछ खास बातें बताई हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड: दर्दनाक हादसे में इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल की मौत, गांव और जिले में शोक की लहर
छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता हासिल करने के लिए लक्ष्य के प्रति गम्भीर होना जरूरी है। इसके लिए खुद के भीतर पागलपन पैदा करना पड़ता है। प्रेरणा कोचिंग सेन्टर पहाड़ के दूरस्थ स्थानों के युवाओं के लिए एक शानदार मौका लेकर आया है। वास्तव में इसका फायदा हर बच्चे को उठाना चाहिए। डीएम मंगेश ने बताया कि इस कोचिंग सेंटर के लिए फैकल्टी की व्यवस्था चमोली की जिलाधिकारी स्वाति भदोरिया के सहयोग से हो चुकी है। जो कि सप्ताह में चार दिन दोपहर ढ़ाई बजे से पांच बजे तक अपनी सेवायें देंगे। एक बैच की चार महीने तक चलेगा। आपको जानकर खुशी होगी कि यहां कोचिंग के लिए अब तक 325 से अधिक आवेदन प्राप्त हो चुके हैं, जिनकी परीक्षा ली जायेगी। परीक्षा पास करने वाले छात्र छात्राओं को विधिवत कोचिंग दी जायेगी। वक्त वक्त पर बाहर से भी विशेषज्ञ बुलाए जाएंगे।

यह भी पढें - उत्तराखंड: दर्दनाक हादसे में इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल की मौत, गांव और जिले में शोक की लहर

रूद्रप्रयाग 06 मार्च ,2019

अब जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों के छात्र छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए भटकना...

Posted by IAS Mangesh Ghildiyal Fan Club on Thursday, March 7, 2019


Uttarakhand News: DM MANGESH GHILDIYAL STARTED COATCHING CENTER IN RUDRAPRAYAG

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें