शहीद मेजर ढौंडियाल के गांव में पसरा मातम, गांव वाले बोले ‘पाकिस्तान से बदला लो’

पुलवामा में शहीद हुए मेजर विभूति के पैतृक गांव में शोक के साथ ही गुस्सा है, लोग पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग कर रहे हैं।

major vibhuti dhaundiyal villege - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, विभूति ढौंडियाल, पौड़ी गढ़वाल, पौड़ी गढ़वाल न्यूज,Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Vibhuti Dhondiyal, Pauri Garhwal, Pauri G, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की शहादत से उत्तराखंड शोक में डूबा है। देहरादून के साथ ही उनके पैतृक गांव में भी मातम पसरा है। बीरोंखाल के बमराड़ी सहित पूरे उत्तराखंड में जगह-जगह शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। कई शहरों में बाजार बंद रहे। मेजर विभूति के पैतृक गांव बमराड़ी में लोगों ने कहा कि शहीदों की शहादत का बदला लिया जाना चाहिए, आतंकियों को बख्शा नहीं जाना चाहिए। सरकार को पाकिस्तान के खिलाफ सख्त कदम उठाने होंगे ताकि इस तरह की घटना दोबारा ना हो। इस मौके पर सरस्वती शिशु निकेतन बैजरो के छात्रों ने बाजार में रैली निकाल कर शहीद मेजर विभूति को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल अमर रहें के नारों से गलियां गूंज उठीं।

उधर प्रतापनगर में लोगों ने पाकिस्तान के झंडे को आग के हवाले कर अपना विरोध जताया। क्यारी गांव के लोगों ने शहीदों की याद में दो मिनट का मौन रखकर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी। नरेंद्रनगर में भी पुलवामा आतंकी हमले पर लोगों ने शोक जताया। यहां व्यापारियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमले के विरोध में बाजार बंद रख कर अपना विरोध जताया। व्यापारियों ने नगर बाजार में जूलूस निकाल कर पाकिस्तान और आतंकवाद के खिलाफ नारे लगाए। व्यापारियों ने कहा कि आतंकवाद के खात्मे के लिए सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उत्तराखंड ने अपने चार जांबाजों को खो दिया है, ऐसा दोबारा ना हो इसके लिए जरूरी है कि आतंकवाद को जड़ से उखाड़ कर फेंक दिया जाए। उत्तराखंड शहीदों को हमारा सलाम


Uttarakhand News: major vibhuti dhaundiyal villege

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें