भारतीय सेना के जवानों को सलाम, बर्फबारी में फंसी गर्भवती महिला की जान बचाई

जम्मू-कश्मीर में आपदा हो या फिर बाढ़ के हालात भारतीय सेना ने हर मोर्चे पर खुद को साबित कर लोगों की जान बचाई है। सेना कई मौकों पर लोगों के लिए देवदूत साबित हुई है।

indian army jawan save women in kashmir - कश्मीर, भारतीय सेना, पुलवामा अटैक, पुलवामा शहीद, Kashmir, Indian Army, Pulwama Attack, Pulwama Shaheed, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

सलाम है इस जज्बे को...घाटी में सेना के जवानों को दुत्कारा गया, उन पर पत्थर बरसाए गए, इसके बावजूद सेना लोगों की सेवा में जुटी रही। जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों में जवानों की शहादत का गम होने के बावजूद सेना लोगों को मुश्किल हालात से निकालने में जुटी है। ताजा मामला कश्मीर के बांदीपोरा इलाके का है, जहां दर्द से तड़पती गर्भवती महिला को सेना के जवानों ने भारी बर्फबारी के बीच ना केवल बचाया, बल्कि उसे अस्पताल तक पहुंचाया भी। इन दिनों कश्मीर में मौसम बेहद खराब है, लगातार हो रही बर्फबारी से तापमान माइनस में चला गया है। शुक्रवार को बांदीपोरा इलाके में गाड़ियां फंस गई। गर्भवती महिला गुलशाना बेगम भी बर्फबारी के बीच फंसी रहीं, दर्द से कराह रही महिला की ये हालत सेना के जवानों से देखी नहीं गई। राष्ट्रीय राइफल्स के जवान भारी बर्फबारी के बीच गुलशाना के घर तक पहुंचे और महिला को स्ट्रेचर पर लेटा कर अस्पताल तक पहुंचाया।

इस दौरान सेना के जवानों ने करीब ढाई किलोमीटर तक बर्फीले रास्ते पर पैदल सफर तय किया। रास्ता साफ होने के बाद सेना ने एंबुलेंस बुलवाई और गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचाया। महिला ने श्रीनगर के अस्पताल में जुड़वां बच्चियों को जन्म दिया। डॉक्टर्स ने कहा कि सेना की तरफ से उन्हें अलर्ट मिला था, जिस वजह से महिला को तुरंत मेडिकल हेल्प मिल पाई। अगर महिला को समय पर इलाज नहीं मिलता तो उसकी जान जा सकती थी। बता दें कि इन दिनों कश्मीर घाटी में खूब बर्फबारी हो रही है। जनजीवन अस्त-व्यस्त है। बर्फ गिरने की वजह से रास्ते बंद हैं। कश्मीर में 5 पुलिसकर्मियों समेत लगभग 12 से 15 लोग बर्फबारी में मारे जा चुके हैं। ऐसे वक्त में सेना के जवान गर्भवती महिला के लिए देवदूत बन कर आए, और उसे नई जिंदगी की सौगात दी।


Uttarakhand News: indian army jawan save women in kashmir

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें