पौड़ी गढ़वाल के मेजर ढौंडियाल शहीद...3 बहनों के इकलौते भाई थे, बीते साल हुई थी शादी

देहरादून के मेजर विभूति कुमार ढौंढियाल सीमा पर आतंकियों से लड़ते लड़ते शहीद हो गए। इस बीच सेना ने आतंकियों के कमांडर गाजी को मार गिराया है।

STORY OF MAJOR VIBHUTI KUMAR DHAUNDIYAL - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, देहरादून, देहरादून न्यूज, मेजर विभूति ढौंडियाल, पुलवामा अटैक,Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Dehradun, Dehradun News, Major, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

मेजर विभूति कुमार ढौंडियाल...कश्मीर के पुलवामा को आतंकियों ने एक बार फिर से दहलाने की कोशिश की लेकिन इस बार वो कामयाब नहीं पाए। इस मुठभेड़ में जैश के कमाडंर गाजी को तो सेना ने मार गिराया लेकिन दुख इस बात का है कि उत्तराखंड ने अपना एक और वीर सपूत खो दिया। मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के बैजरो गांव के रहने वाले मेजर वीसी ढौंडियाल अब हमारे बीच नहीं रहे। इस वक्त मेजर विभूति कुमार ढौंडियाल का परिवार देहरादून के नेश्विला रोड के 36 डंगवाल मार्ग में रहता है। 31 साल के मेजर विभूति कुमार ढौंडियाल सेना के 55 आरआर में तैनात थे। वो तीन बहनों के इकलौते भाई थे। बताया जा रहा है कि बीते साल अप्रैल में ही मेजर विभूति कुमार ढौंडियाल की शादी हुई थी। शादी के सिर्फ एक साल के भीतर ही मेजर विभूति ढौंडियाल देश के लिए कुर्बान हो गए।

मेजर विभूति कुमार ढौंडियाल के पिताजी अब इस दुनिया में नहीं हैं। इसलिए घर की सारी जिम्मेदारियां बेटे के ही कंधों पर रही होगी। उनके पिता स्वर्गीय केएन ढौडियाल सीडीओ आफिस में थे। घर में बूढ़ी दादी और मां हैं। ना जाने कैसे दुखों का पहाड़ इस परिवार पर टूट पड़ा है। आपको बता दें कि दो दिन पहले ही देहरादून के मेजर चित्रेश बिष्ट राजौरी के नौशेरा सेक्टर में विस्फोट में शहीद हो गए थे। मेजर चित्रेश मूलरूप से अल्मोड़ा जिले के पिपली गांव के रहने वाले थे और उनका परिवार देहरादून के नेहरू कॉलोनी में रहता है। मेजर चित्रेश की सात मार्च को शादी होनी थी, इसके लिए कार्ड भी छप चुके थे। धन्य हैं देवभूमि के ऐसे जांबाज अफसर, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बिना देश के लिए प्राण न्योछावर कर दिए। धन्य हैं भारत माता के वीर सपूत।


Uttarakhand News: STORY OF MAJOR VIBHUTI KUMAR DHAUNDIYAL

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें