loksabha elections 2019 results

पहाड़ों में कहीं घोर अंधेरा, कहीं बादल फटने का डर...5 जिलों में रेड अलर्ट!

उत्तराखंड को लेकर मौसम विभाग का अनुमान सही निकला। गुरुवार को पहाड़ों में खूब बारिश और बर्फबारी हुई, जिससे लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

Problem increased in uttarakhand after rain and snowfall - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड बर्फबारी, उत्तराखंड बारिश, रुद्रप्रयाग बर्फ, चमोली बर्फ, टिहरी गढ़वाल बर्फ, उत्तरकाशी बर्फ, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Uttarakhand snowfall, Uttarakhand rain, Rudraprayag ice, Chamoli snow, Tehri Garhwal ice, Uttarkashi snow, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड में मौसम का मिजाज फिर बिगड़ गया है। प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में भारी बारिश हो रही है, कई जगहों पर दिन में ही अंधेरा छा गया है। पहाड़ों में हालात लगातार बिगड़ रहे हैं। भारी बर्फबारी ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। पहाड़ों में घरों से लेकर खेतों तक बर्फ जमी हुई है, जिस वजह से लोग घरों में कैद होकर रह गए हैं। मौसम विभाग का अनुमान सही निकला है। गुरुवार को देहरादून समेत दूसरे मैदानी इलाकों में घने बादल छाए रहे, जिस वजह से लोग धूप के दर्शन नहीं कर पाए। राजधानी के साथ ही श्रीनगर, खटीमा, रुद्रपुर, गैरसैंण, पौड़ी और नैनीताल में बारिश होती रही। पहाड़ों में हालात और ज्यादा खराब हो गए हैं। चारधाम के साथ ही गोपेश्वर, जोशीमठ, नंदप्रयाग, थराली और देवाल जैसे इलाकों में खूब बर्फबारी हुई है।

यह भी पढें - Video: डीएम दीपक रावत की छापेमारी से जिम में मचा हड़कंप, मौके पर हुए बड़े खुलासे
बर्फीली हवाओं की वजह से ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग ने उत्तराखंड के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम के बिगड़े मिजाज से उत्तराखंड में बादल फट सकते हैं, जिससे बाढ़ आ सकती है। प्रशासन ने मौसम विभाग की चेतावनी को गंभीरता से लिया है। आपदा प्रबंधन विभाग भी अपनी तैयारियों में जुटा है। मौसम विभाग की ओर से भारी बर्फबारी और बारिश के अलर्ट के चलते पांचों पर्वतीय जिलों पौड़ी, टिहरी, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली में आज कक्षा एक से 12वीं तक के सभी स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहे। पिथौरागढ़, बागेश्वर और चंपावत में भी स्कूल बंद रहे। पहाड़ में बद्रीनाथ, औली, हेमकुंड साहिब, केदारनाथ और फूलों की घाटी में खूब बर्फ गिरी है। केदारनाथ धाम के आस-पास अंधेरा छाया है। 21 जनवरी से यहां बिजली नहीं आ रही।

यह भी पढें - उत्तराखंड के लिए SKYMET की चेतावनी, कई जिलों में बादल फटने और बाढ़ का अलर्ट!
भारी बर्फबारी के बीच यहां 19 लोग रह रहे हैं। जिनमें कार्यदायी संस्था वुड स्टोन कंपनी के 10 लोग, पुलिस के 4 जवान और 5 साधु शामिल हैं। चमोली के निचले इलाकों में भी दिनभर बारिश होती रही। नई टिहरी और उसके आस-पास के इलाकों में भी बारिश हो रही है, जिससे ठिठुरन बढ़ गई है। मौसम विभाग ने रुद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा के अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में भारी हिमपात की चेतावनी दी गई है। चेतावनी मिलने के बाद शासन ने एडवाइजरी जारी कर सभी जिलाधिकारियों को अतिरिक्त सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारियों से ऊंचाई वाले इलाकों में लोगों की आवाजाही रोकने को कहा गया है। हमारी आपसे भी अपील है कि इस दौरान सावधानी बरतें। बर्फबारी के दौरान खुद को गर्म कपड़ों से ढके रखिए


Uttarakhand News: Problem increased in uttarakhand after rain and snowfall

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें