उत्तराखंड में दर्दनाक हादसे के बाद मातम, एक ही घर से उठी बाप-बेटे की अर्थी

उत्तराखंड में एक भीषण हादसा हुआ, जिसमें बेटे की मौत हो गई। पिता ये दुख सह नहीं सके और उनकी भी मौत हो गई। पढ़िए ये खबर

Accident in champawat father died after son - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, चंपावत न्यूज, उत्तराखंड एक्सीडेंट, बाराकोट एक्सीडेंट, हल्द्वानी एक्सीडेंट, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Champawat News, Uttarakhand Accident, Barakot Accident, Haldwani Accident, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

शवयात्रा के दौरान वाहन हादसे में मारे गए युवक के पिता बेटे की मौत का सदमा नहीं सह सके और उन्होंने भी दम तोड़ दिया। घर से एक की जगह दो-दो अर्थियां उठीं, जिसने भी ये दृश्य देखा उसका कलेजा मुंह को आ गया। दोनों की मौत के बाद परिवार में मातम पसरा है। उत्तराखंड के चंपावत से एक दुखद खबर आ रही है। रविवार को शव यात्रा वाहन हादसे में मारे गए कृष्ण जोशी के पिता ने बेटे की मौत के गम में दम तोड़ दिया। सड़क हादसे में मारे गए बेटे की लाश जैसे ही घर पहुंची, पिता ये सदमा बर्दाश्त ना कर सके और देर रात उनकी भी मौत हो गई। परिवार में एक साथ दो-दो मौतों से कोहराम मचा है। परिवारवालों के आंसू थम नहीं रहे। बेटे कृष्ण जोशी के साथ ही उनके पिता की अर्थी उठी। दोनों का अंतिम संस्कार एक साथ हुआ। गांव के लोग पहले ही सड़क हादसे की वजह से गमगीन थे, उस पर कृष्ण जोशी और उसके पिता की मौत ने लोगों को झकझोर दिया है। लोग अपने दुर्भाग्य को कोस रहे हैं। आगे जानिए कि ये पूरा मामला क्या है।

यह भी पढें - Video: टिहरी डीएम ने अपने पिता की गिरफ्तारी पर कहा ‘मैं कई सालों उनके संपर्क में नहीं’
रविवार को बाराकोट के पास शव यात्रा का वाहन गहरी खाई में गिर गया था, जिस वजह से उसमें सवाल 8 लोगों की मौत हो गई थी। 54 साल के कृष्ण जोशी भी मरने वालों में शामिल हैं। हादसे में 11 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। घायलों में से 2 लोगों का इलाज सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में चल रहा था, लेकिन हालत बिगड़ने के बाद उन्हें इलाज के लिए एम्स ऋषिकेश रेफर कर दिया गया। 4 घायल अब भी हल्द्वानी के अस्पताल में भर्ती हैं, जिनका इलाज चल रहा है। सड़क हादसे के बाद गांव वालों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। हादसे में मारे गए लोगों के परिजन अब तक सदमे से उबर नहीं पाए हैं। हर तरफ मातम का माहौल पसरा हुआ है। इस बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये बतौर मुआवजा देने का ऐलान किया है।


Uttarakhand News: Accident in champawat father died after son

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें