उत्तराखंड को वर्ल्ड बैंक देगा 850 करोड़ रुपये, इस बजट से कई काम होंगे...जानिए

उत्तराखंड के लिए एक अच्छी खबर है। वर्ल्ड बैंक की तरफ से उत्तराखंड में आपदा प्रबंदन की तरफ से 850 करोड़ रुपये दिए जाएंगे।

world bank help uttarakhand - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, वर्ल्ड बैंक, उत्तराखंड आपदा, उत्तराखंड भूस्खलन , Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, World Bank, Uttarakhand Disaster, Uttarakhand Landslide, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

आपदा ने हर वक्त उत्तराखंड में कहप बरपाया है। आपदा के प्रबंधन और जानकारी के लिए पहले से ही कोई सही व्यवस्था की जाए तो काफी हद तक मदद मिल सकती है। ऐसी मदद के लिए एक बड़े बजट की जरूरत होती है और अच्छी बात ये है कि आपदा प्रबंधन के लिए उत्तराखंड को वर्ल्ड बैंक की तरफ से साढ़े आठ सौ करोड़ रुपये दिए जाएंगे। UDRP यानी उत्तराखंड डिजास्टर रिकवरी प्रोजेक्ट के तहत नई दिल्ली में उत्तराखंड सरकार और वर्ल्ड बैंक के बीच समझौता हुआ। इसके तहत MoU साइन किए गए। अब सवाल ये है कि आखिर इस बजट में किन किन बातों पर फोकस किया जाएगा ? तो आइए इस बारे में भी आपको जानकारी दे देते हैं। आगे जानिए...

यह भी पढें - उत्तराखंड के किसानों के लिए सांसद अनिल बलूनी की पहल, कोदा-झंगोरा से जुड़ी अच्छी खबर
उत्तराखंड के देहरादून के जौलीग्रांट में SDRF बटालियन मुख्यालय का निर्माण किया जाएगा।
उत्तराखंड में एसडीआरएफ की प्रशिक्षण सुविधाओं को बढ़ाया जाएगा। ताकि आपदा के वक्त SDRF हर जरूरी उपकरण के साथ तैयार रहे।
अत्याधुनिक उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण भवन का निर्माण किया जाएगा।
उत्तराखंड में 64 पुलों का निर्माण किया जाएगा, जिससे कनेक्टिविटी में सुधार किया जा सके।
15 अति संवेदनशील भूस्खलन जोन पर स्लोप सुरक्षा का काम करवाया जाएगा।
नदियों के किनारे 5 जगहों पर सुरक्षा से संबंधित काम कराए जाएंगे।

यह भी पढें - उत्तराखंड के लिए मौसम विभाग का अलर्ट, 4 जिलों में बारिश और पाले से बढ़ेगी मुसीबत!
ये सभी काम आने वाले तीन सालों के भीतर कराए जाने हैं
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर एक साल पहले ही इस परियोजना की तैयारी शुरू कर दी गई थी। पीडब्ल्यूडी, सिंचाई विभाग और पुलिस विभाग के तालमेल के साथ ही इन कामों को पूरा किया जाएगा।
खास बात ये भी है कि परियोजना की शुरुआत के लिए मानव संसाधन और क्षेत्रीय पीआईयू की स्थापना हो चुकी है। 30 फीसदी कार्यों का अनुबंध आर्थिक मामलों के विभाग के दिशा निर्देशानुसार द्वारा किा जा चुका है।
कुल मिलाकर कह सकते हैं कि आपदा से मुकाबला करने के लिए उत्तराखंड को जल्द ही मजबूत बनाया जाएगा। फिलहाल वर्ल्ड बैंक भी इसके लिए तैयार है।


Uttarakhand News: world bank help uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें