उत्तराखंड: केदारनाथ फिल्म के विरोध में उतरा संत..सिनेमाघरों में आंदोलन की चेतावनी

केदारनाथ फिल्म का जबसे टीज़र और ट्रेलर रिलीज़ हुआ है, तबसे ये फिल्म लगातार विवादों में है। अब सत समाज भी इस फिल्म के विरोध में उतर आया है।

saints demand for ban in uttarakhand on kedarnath movie - kedarnath movie, kedarnath dham, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,आंदोलन,केदारनाथ धाम,महंत ऋषिश्वरानंद,महंत सुंदरवन,रविंद्र पुरी महाराज,हरिद्वार

जबसे केदारनाथ फिल्म का ट्रेलर और टीज़र आया है। तबसे लगातार इस फिल्म का विरोध हो रहा है। अब इस फिल्म के विरोध में संत समाज उतरा है और फिल्म में अश्लील दृश्यों के साथ साथ अभिनेत्री सारा अली खान की भूमिका का भी विरोध किया है। साथ ही संतों ने चेतावनी दे डाली है कि अगर फिल्म को उत्तराखंड के सिनेमाघरों में दिखाया गया तो इसे चलने नहीं दिा जाएगा। चेतावनी दी गई है कि अगर तोड़फोड़ हुई तो इसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। हरिद्वार के प्रमुख संतों ने इस फिल्म के खिलाफ आवाज़ उठाई है। एक वेबसाइट के मुताबिक भारत साधु समाज के प्रवक्ता महंत ऋषिश्वरानंद ने इस फिल्म को लेकर तीखी टिप्पणी की है। उनका कहना है कि फिल्मों में धर्म के नाम पर छेड़छाड़ पहले से ही होती रही है।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ फिल्म का ट्रेलर भी लॉन्च हुआ, यहां भी शुरू हुआ नया बवाल..देखिए
महंत ऋषिश्वरानंद का कहना है कि केदारनाथ धाम दुनिया के प्रसिद्घ धार्मिक स्थलों में से एक है और इसे मनोरंजन के रूप में पेश करना गलत है। इसके अलावा हनुमान मंदिर राजविहार के महंत स्वामी आलोक गिरि ने भी फिल्म का विरोध किया है। उनका कहना है कि केदारनाथ मंदिर की आस्था से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी। फिल्म के ट्रेलर से ही साबित हो रहा है कि इसमें अश्लीललता परोसी गई है। उन्होंने कहा कि अगर ये फिल्म सिनेमाघरों में चली तो इसका जमकर विरोध किया जाएगा। इसके साथ ही महानिर्वाणी अखाड़े के सचिव रविंद्र पुरी महाराज के मुताबिक केदारनाथ का नाम देकर ऐसी फिल्म तैयार करने का मतलब ही नहीं है। उन्होंने केंद्र सरकार से मांग की है कि इस फिल्म पर हर हाल में रोक लगाई जाए।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ फिल्म का पहला गीत रिलीज, अब तक 90 लाख लोगों ने देखा..देखिए
इसके साथ ही महंत कुलदीप गिरि का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद केदारनाथ में आकर पूजा अर्चना करते हैं। उनके शासनकाल में अश्लीलता से भरी ऐसी फिल्म का आना दुर्भाग्यपूर्ण है। इस फिल्म का सभी संत मिलकर विरोध करेंगे। उधर निरंजनी अखाड़ा के महंत सुंदरवन ने इस फिल्म को लेकर गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने अपील की कि संत समाज प्रयाग कुंभ में फिल्म के विरोध में कोई फैसला ले और इस फिल्म के रिलीज होने पर रोक लगाई जाए। उन्होंने साफ शब्दों में चेतावनी दी है कि अगर उत्तराखंड में इस फिल्म को रिलीज किया गया तो संत एकत्रित होकर आंदोलन करने पर मजबूर होंगे। आपको बता दें कि इस फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान मुख्य भूमिकाओं में हैं। देखना है कि आगे क्या होता है।


Uttarakhand News: saints demand for ban in uttarakhand on kedarnath movie

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें