उत्तराखंड: दर्दनाक हादसे में ITBP जवान की मौत, दिवाली से पहले घर में मचा मातम

उत्तराखंड में दर्दनाक हादसे ने दिवाली से पहले एक जवान के घर में कोहराम मचा दिया। दो जवान गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं।

Road accident in uttarakhand itbp jawan died - Road accident, uttarakhand accident, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,काठगोदाम,दुर्घटनाएं,बेड़ीनाग,मिर्थी,राजस्थान,हिमाचल प्रदेशउत्तराखंड,

उत्तराखंड में लगातार बढ़ते हादसों ने ना जाने कितने परिवारों के लिए इस साल की दिवाली काली कर दी। एक आंकड़ा कहता है कि इस साल अब तक सड़क हादसों में ही 700 से ज्यादा लोग मौत के मुंह में समा गए। इस बीच एक दर्दनाक हादसा उत्तराखंड में बेड़ीनाग-थल मार्ग हुआ हुआ, जहां ITBP की एक बस गहरी खाई में गिर गई। एक दिन पहले हुए इस हादसे में ITBP के एक जवान कि मौत हो गई और दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गये। बताया जा रहा है कि भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की सातवीं वाहिनी की बस शनिवार को काठगोदाम से डीडीहाट के मिर्थी जा रही थी। इस बीच बरड़ बैंड के पास बस अनियंत्रित हो गई। इसके बाद बस सड़क किनारे लगे क्रश बैरियर को तोड़ते हुए 100 मीटर नीचे पैदल मार्ग पर गिर गई।

यह भी पढें - पहाड़ में दर्दनाक हादसा..खाई में गिरी कार, एक युवक की मौत, दो गंभीर रूप से घायल
बताया जा रहगा है कि इस दर्दनाक हादसे में ITBP के जवान राकेश कुमार की मौके पर ही मौत हो गई। राकेश कुमार हिमाचल प्रदेश के वैती तहसील सरकाघाट के रहने वाले थे। राकेश कुमार आईटीबीपी में साल 2007 से बतौर चालक तैनात थे।इस दर्दनाक हादसे की खबर राकेश कुमार के परिजनों को दी गई। दिवाली से पहले इस खबर को सुनकर परिवार और गांव में मातम का माहौल है। आज उन्हें सैन्य सम्मान के साथ आखिरी विदाई दी गई।बताया जा रहा है कि सबसे पहले बेड़ीनाग वन प्रभाग में तैनात वन रक्षक दिनेश सिंह चौहान ने इस हादसे को देखा। उन्होंने इसकी खबर पुलिस को दी। खबर मिलते ही थल थाने से पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। तुरंत ही वाहन से घायल जवानों को निकाया गया। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस को इस बारे में खबर की गई।

यह भी पढें - उत्तराखंड में 42 छात्रों का आतंकियों से कनेक्शन? सक्रिय हुई खुफिया एजेंसियां
इसके बाद असिस्टेंट कमांडेंट हरवंश और डॉक्टर दीपक गोगई 25 जवानों की रेस्क्यू टीम के साथ मौके पर पहुंचे। इसके अलावा इस हादसे में दो और जवान गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। राजस्थान के नागौर के रहने वाले जवान विजय चौधरी और राजस्थान के ही बांदीकुई के रहने वाले जवान विष्णु कुमार की हालत गंभीर है। दोनों घायलों का इलाज मुवानी अस्पताल में चल रहा है और इनमें से विजय चौधरी की हालत नाजुक बताई जा रही है। इस साल उत्तराखंड में 1078 सड़क दुर्घटनाएं हुई हैं। 2017 में 1178 सड़क हादसे हुए थे और साल 2016 में 1192 दुर्घटनाएं हुई थीं। कम दुर्घटनाएं होने के बाद भी इस साल सबसे ज्यादा लोग मौत के मुंह में समाए। सबसे ज्यादा खौफनाक मंजर पौड़ी के धुमाकोट मार्ग पर हुआ था जिसमें 48 यात्रियों की मौत से हाहाकार मच गया था।


Uttarakhand News: Road accident in uttarakhand itbp jawan died

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें