देहरादून में तीन छात्राओं से अश्लील हरकत, नौकरी दिलाने के बहाने इज्जत से खिलवाड़!

देहरादून कितना सुरक्षित है ? यहां किसी पर भरोसा किया जा सकता है? UTU की 3 छात्राओं ने आरोप लगाया है कि नौकरी दिलाने के बहाने प्रोफेसर ने ही गंदी हरकत की।

molestation with students at utu deharadun - utu dehradun, dehradun crime, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,विश्वविद्यालय,UTU,असिस्टेंट प्रोफेसर,यूनिवर्सिटी,डॉक्टर अनीता रावत,उत्तराखंड तकनीकि विश्वविद्यालयउत्तराखंड,

आखिर उत्तराखंड में ये क्या हो रहा है ? जहां देखिए वहां बेटियां रहम की भीख मांग रही हैं। खासतौर पर राजधानी देहरादून और हल्द्वानी में तो स्थिति बेहद ही खराब हो गई है। इस बार मामला देहरादून टेक्निकल यूनिवर्सिटी का है। इस यूनिवर्सिटी में तीन छात्राओं से छेड़छाड़ की बात सामने आई है। हैरानी की बात ये है कि इस बार अश्लील हरकतों का ये आरोप विश्वविद्यालय के ही असिस्टेंट प्रोफसर पर लगा है। बताया जा रहा है कि ये मामला अभी पुलिस तक नहीं पहुंचा है लेकिन परिजनों ने इस मामले में शिकायत कर दी है। परिजनों की शिकायत पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि कमेटी तीन दिन के भीतर अपनी पूरी रिपोर्ट देगी। UTU की कुल सचिव डॉक्टर अनीता रावत ने इसकी पुष्टि की। आइए इस पूरे मामले को जानिए।

यह भी पढें - देहरादून के स्कूल में छात्रा से दुराचार, गर्भवती हुई तो मचा हड़कंप..4 छात्र गिरफ्तार!
बताया जा रहा है कि ये मामला उस वक्त खुला, जब तीनों छात्राओं के परिजन UTU के ऑफिस पहुंचे। परिजनों ने वहां जमकर हंगामा किया और यूनिवर्सिटी के एमटेक विभाग के एक असिस्टेंट प्रोफेसर पर संगीन आरोप लगाए। कुल सचिव डॉक्टर अनीता रावत को इस बारे में शिकायती पत्र सौंपा गया है। आरोप है कि असिस्टेंट प्रोफेसर बीते कुछ दिनों से छात्राओं को अपने कमरे में बुलाता था। वो इंटरनल एग्जाम में नंबर बढ़ाने और एक प्रोजेक्ट में नौकरी दिलाने का झांसा तीनों छात्राओं को दे रहा था। जब छात्राएं असिस्टेंट प्रोफेसर के कमरे में गईं तो असिस्टेंट प्रोफेसर ने तीनों के साथ अश्लील हरकत की। बताया जा रहा है कि तीनों ही छात्राएं इस यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रही हैं। इसके बाद छात्राओं ने इस बारे में अपने परिजनों से शिकायत की।

यह भी पढें - उत्तराखंड में छात्रा से स्कूल वैन में रेप..दर्द से तड़पती रही बच्ची, मामला दबाता रहा स्कूल!
गुस्साए परिजन विश्वविद्यालय में पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा होता देख कुल सचिव डॉक्टर अनीता रावत ने आनन में फानन एमटेक विभाग के एचओडी और बाकी स्टाफ को बुलाकर इस मामले की जानकारी ली। आरोपों की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टर अनीता रावत ने एमटेक विभाग के मुखिया की अगुआई में तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर दी। कमेटी को कहा गया है कि दोनों पक्षों के बयान दर्ज किए जाएं और तीन दिन के भीतर रिपोर्ट पेश की जाए। उत्तराखंड तकनीकि विश्वविद्यालय के कुलपति ने भी इस बारे में मीडिया को कुछ जानकारी दी है। डॉक्टर यूएस रावत का कहना है कि ये मामला बेहद गंभीर है। जांच के लिए तीन सदस्यों की कमेटी बनाई है। बताया जा रहा है कि कमेटी अपनी रिपोर्ट शनिवार तक पेश कर देगी। शिकायत सही पाई जाती है तो आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज होगी।


Uttarakhand News: molestation with students at utu deharadun

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें