पहाड़ का लड़का 3 साल से विदेश में फंसा था, रोशन रतूड़ी की मदद से अपने गांव लौटेगा

पहाड़ का लड़का 3 साल से विदेश में फंसा था, रोशन रतूड़ी की मदद से अपने गांव लौटेगा

roshan raturi saved anil singh life  - roshan raturi, rudraprayag , uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand, रोशन रतूड़ी

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले अनिल सिंह के चेहरे पर खुशी साफ देखी जा सकती है। ये वो खुशी है, जिसका इंतजार वो बीते 3 साल से कर रहे थे। अनिल ना जाने किन परिस्थियों में मलेशिया में जी रहे थे। विदेशी धरती पर हर दिन अपने वतन, अपने उत्तराखंड को याद करते थे। वापस जाने का मन था लेकिन जा नहीं पा रहे थे। आखिरकार दुबई में रह रहे उत्तराखंड के समाजसेवी रोशन रतूड़ी को इस बारे में पता चला, तो वो अनिल सिंह की मदद के लिए आगे बढ़े। आखिरकार मलेशिया में 3 साल से बंधक की तरह रह रहे अनिल सिंह अब स्वदेश लौट सकेंगे। अनिल सिंह 9 सितम्बर को स्वदेश लौटेंगे। इस बारे में रोशन रतूड़ी ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिये ये सूचना दी है। रोशन रतूड़ी ने इसे उत्तराखण्डियों के प्यार और सहयोग का फल बताया। अब तक रोशन रतूड़ी अपने दम पर 580 लोगों को विदेश से मुक्त करवा चुके हैं।

यह भी पढें - रोशन रतूड़ी ने अब्दुल सलाम को दी खुली चेतावनी
रोशन रतूड़ी ने लिखा है कि ‘आख़िरकार अनिल सिंह जी को उनका पास पोर्ट व उनका पुरा हिसाब मिल गया है। 9 तारीख़ को अनिल सिंह जी मलेशिया से निकलकर अपने वतन अपने परिवार के पास होगें। बहुत समय से तकलीफ मै फंसे थे, उनकी तबियत भी ठीक नही थी। आप सभी के आशीर्वाद से अब अनिल जी ठीक हैं, बहुत लम्बे समय के बाद अपने परिवार से मिलने जा रहे हैं’। रोशन रतूड़ी आगे लिखते हैं कि ‘ये सब आप सबके आशीर्वाद और सहयोग से हुआ है। आशा करता हूं कि आप सबका भरपूर सहयोग इसी तरह से मिलता रहेगा’। रोशन कहते हैं कि ‘एकता में बहुत ताकत होती है। फिर हब सब मिलकर हर एक इंसान की मदद कर सकते हैं, जिससे इंसानियत के साथ साथ हमारी देव भूमि उत्तराखंड का नाम भी आगे बढ़ेगा’।

यह भी पढें - रोशन रतूड़ी की मौत की अफवाह किसने फैलाई

उतराखंडी हर मुश्किल काम को आसान कर सकते है

आख़िरकार अनिल सिह जी को उनका पास पोर्ट व सभी उनका पुरा हिसाब मिल गया है। 9...

Posted by Roshan Raturi RR on Thursday, September 6, 2018


Uttarakhand News: roshan raturi saved anil singh life

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें