Video: पहाड़ के रोशन रतूड़ी ने 577 लोगों को बचाया, अपने दम पर किया बेमिसाल काम

Video: पहाड़ के रोशन रतूड़ी ने 577 लोगों को बचाया, अपने दम पर किया बेमिसाल काम

Roshan raturi saved 577 people all around the world - Roshan raturi, rr humanity , uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,,उत्तराखंड,

577 ये आंकड़ा कई मायनों में बहुत बड़ा होता है। खासतौर पर जब 577 इंसानों को बचाने की बात हो तो इसे इंसानियत के लिए मील का पत्थर कहते हैं। देवभूमि का एक अकेला शख्स अब तक 577 लोगों की जान बचा चुका है। नाम तो आप जानते ही होंगे...टिहरी के हिंडोलाखाल के रहने वाले रोशन रतूड़ी अब तक विदेश में फंसे 577 लोगों के लिए देवदूत बन चुके हैं। हर बार अपनी जान की परवाह किए बिना ही लोगों को बचाने के लिए निकल पड़ना इनका जुनून है। इस बार रोशन रतूड़ी ने बिहार के दो लोगों को विदेशी धरती से अपने वतन भेजा है। इस काम के लिए कई मुश्किलें रास्ते में आई लेकिन तमाम परेशानियों से लड़कर रोशन एक बार फिर से देवदूत साबित हुए। मनीष और विश्ककर्मा नाम के ये दोनों शख्स वतन वापसी से बेहद खुश दिखे।

यह भी पढें - Video: रोशन रतूड़ी ने अर्जुन बिष्ट के बारे में बताई बड़ी बातें, जापान से पार्थिव देह लाने की तैयारी
रोशन रतूड़ी ने इस बारे में फेसबुक पर भी जानकारी दी है। उन्होंने लिखा है कि ‘नम्बर -576 और 577..!! कल दो और हमारे भारतीय भाई, जो विदेशी धरती मै फंसे थे..आज वो दोनों भी अपने परिवार के पास पहुँच गये।’ 577 का आंकड़ा छोटा नहीं होता जनाब। इतने लोगों को बचाने के लिए जी-तोड़ मेहनत करनी पड़ती है। कागजातों को ही पूरा करने में काफी वक्त लग जाता है। अकेले रोशन रतूड़ी अब तक उत्तर प्रदेश के लगभग 80 लोगों को मौत के मुंह से निकल चुके हैं। एक तरफ योगी आदित्यनाथ अपने एक्शन से यूपी के साथ साथ देश में फायरब्रांड सीएम बन चुके हैं तो दूसरी तरफ यूपी के इतने लोगों को बचाकर रोशन रतूड़ी की छवि एक मददगार के रूप में उभर रही है। इस वक्त देश के कई राज्यों के लोग ऐसे हैं, जो चाहते हैं कि उनके राज्यों के सीएम रोशन रतूड़ी को सम्मानित करें।

यह भी पढें - Video: थाईलैंड में उत्तराखंडी स्वाद, पहाड़ के शेफ दुनिया में जलवा दिखा रहे हैं..देखिए
विदेश से किसी को घर लाने में किन मु्श्किलों का सामना करना पड़ता है, इस बात को रोशन रतूड़ी कई बार बता चुके हैं। ये बात एकदम सच है कि सरकार जो काम अब तक नहीं कर पाई, रोशन रतूड़ी ने वो कर दिखाया है। अब आप रोशन रतूड़ी की ये फेसबुक पोस्ट भी पढ़िए।

आप लोगो को याद होगा रिकूं कूमार व मुकेश कुमार जिनके बारे मे मेने पहले भी बताया था ।आज दोनो अपने वतन अपने परिवार के पास जा रहे है । बहुत तकलीफ मै थे । कहते है ना भगवान के देर है पर अंधेर नही । इनके परिवार वाले बहुत खुश है । दोस्तो इसानियत हमेशा ज़िंदा रहनी चाहिए । हमें रहै ना रहै । मानवता सेवा की। मशाल जलती रहनी चाहीेए ।

जय उतराखड । जय भारत ।

आपका सेवक

रोशन रतूडी

RR

Humanity -1st

Posted by Roshan Raturi RR on Saturday, August 18, 2018


Uttarakhand News: Roshan raturi saved 577 people all around the world

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें