उत्तराखंड बनेगा बुद्धिस्ट टूरिज्म का बड़ा हब... पर्यटन बढ़ाने को सरकार की नयी पहल

उत्तराखंड बनेगा बुद्धिस्ट टूरिज्म का बड़ा हब... पर्यटन बढ़ाने को सरकार की नयी पहल

uttarakhand to become buddist tourism hub - buddist tourism, uttarakhand tourism, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,,उत्तराखंड,

उत्तराखण्ड को बुद्धिस्ट टूरिज्म का बड़ा हब बनाने की तैयारियां शुरू हो गयी हैं। सबकुछ समय से और योजना बद्ध तरीके से हुआ तो बहुत जल्द उत्तराखण्ड बुद्धिस्ट टूरिज्म का बड़ा हब बनेगा। सरकार की ऐसी ही योजना है। इसके तहत राज्य में बुद्धिस्ट टूरिज्म सर्किट को विस्तार दिया जाएगा। इसके लिए कालसी में स्थापित अशोक के शिलालेख से लेकर काशीपुर में स्थापित स्तूप को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अधिक प्रचार प्रसार कर एक नई पहचान दिलाई जाएगी। इन स्थानों पर पर्यटकों के लिए सुविधाएं विकसित होंगी। ताकि दुनिया भर में फैले बौद्ध धर्म के अनुयायी यहां हर साल पर्यटक के रूप में पहुंच सके। राज्य में बुद्धिस्ट पर्यटन सर्किट को किस तरह विकसित किया जाए, इस पर गुरुवार को पर्यटन विकास परिषद मुख्यालय में विचार मंथन हुआ। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि राज्य में भगवान बुद्ध के संदेशों से जुड़ा सम्राट अशोक का स्थापित शिलालेख कालसी में हैं। जो एक बड़ी एतिहासिक धरोहर है।

यह भी पढें - Video: बार बार छलके डीएम मंगेश घिल्डियाल की आंखों से आंसू, देखिए वो भावुक पल
इसी तरह काशीपुर में स्थापित भगवान बुद्ध के स्तूप तक पर्यटकों की संख्या बढ़ाई जाएगी। इस स्तूप में भगवान बुद्ध के नाखुन व बाल हैं। भगवान बुद्ध से जुड़ी इन ऐतिहासिक धरोहरों तक जापान, दक्षिण कोरिया, दक्षिण पूर्व एशिया के देशों, थाईलैंड, बर्मा, वियतनाम समेत तमाम दूसरे देशों के पर्यटकों की संख्या बढ़ाने को एएसआई के साथ मिल कर पर्यटन स्थल को विकसित किया जाएगा। बुद्धिस्ट सर्किट में द्रोण सागर को भी शामिल किया जाएगा। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज का कहना है कि हर व्यक्ति का गौत्र होता है। ऐसे में उन गौत्रों से जुड़े ऋषियों की स्थलियों को विकसित किया जाएगा। ताकि लोगों को भारद्वाज, कश्यप, अगस्त्य ऋषियों से जुड़े स्थान की जानकारी मिल सके। लोग अपने गौत्र से जुड़े ऋषियों के बारे में अधिक से अधिक जान सकें। इसके अलावा सरकार की उत्तराखंड में फ़िल्म फेस्टिवल को आयोजित करने की भी योजना है।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ की बहादुर बेटियां जिनके हौसले के आगे उफनती नदी भी हार गयी
uttarakhand to become buddist tourism hub
उत्तराखंड सरकार की योजना यह भी है कि आने वाले दिनो में राज्य में गोवा की तर्ज पर फिल्म फेस्टिवल और कार्निवाल का आयोजन किया जाय ताकि राज्य में पर्यटन के विकास के साथ ही पर्यटन क्षेत्र में निवेश भी बढ़े और यहां रोजगार से लेकर स्वरोजगार तक के साधन विकसित हों। यही नहीं राज्य में इसके लिए मिनी कॉन्क्लेव भी आयोजित करने की योजना है। इन्वेस्टर्स समिट से पहले भीमताल व टिहरी में मिनी कॉन्क्लेव होंगे। इसमें निवेशकों से उनकी राय जानी जाएगी।


Uttarakhand News: uttarakhand to become buddist tourism hub

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें