पहाड़ के बेटे ने हुनर से लिखी बेमिसाल कहानी, फुटबॉल की दुनिया में बनाई अलग पहचान

पहाड़ के बेटे ने हुनर से लिखी बेमिसाल कहानी, फुटबॉल की दुनिया में बनाई अलग पहचान

Story of deepak devrani footballer from uttarakhand  - Deepak devrani, pauri garhwal , uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,उत्तराखंड,

राज्य समीक्षा की कोशिश रहती है कि आप तक कुछ ऐसी कहानियां पहुंचाएं, जो वास्तव में बेमिसाल हैं। कुछ ऐसे पहाड़ी लड़के जो देश-विदेशों में भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। ऐसे ही एक युवा हैं दीपक देवरानी। मुश्किलों से लड़कर, कठिन हालातों से खुद को संभालकर पौड़ी गढ़वाल के इस लड़के हौसला नहीं खोया। 12 साल की उम्र में ही फुटबॉल को अपना जुनून बनाया। लगातार मेहनत की और एक अलग मुकाम हासिल किया। दीपक देवरानी एक बेहतरीन डिफेंडर है, जिसका खेल बाकियों से अलग है। पहले भारत की अंडर 16 टीम से खेला, फिर अंडर 19 टीम से खेला और फिर अंडर 23 टीम की तरफ से भी खेला। इसके अलावा दीपक देवरानी देश के हर बड़े फुटबॉल क्लब के लिए खेल चुके हैं। पैलन एरोज़, स्पोर्टिंग गोवा, एफसी पुणे सिटी जैसे बड़े फुटबॉल क्लबों के लिए दीपक देवरानी खेल चुके हैं। फिलहाल दीपक मिनर्वा पंजाब फुटबॉल क्लब के दमदार खिलाड़ी हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड के चैम्पियन जुड़वा भाई... विदेशों में दिखायी पहाड़ी पावर... सरकार ने सराहा
आपको ये भी याद होगा कि देश में इंडियन प्रीमियर लीग की तर्ज पर इंडियन फुटबॉल लीग की शुुरुआत भी हुई थी। इस लीग में दीपक देवरानी पुणे सिटी एसपी की टीम की तरफ से खेले थे। ये टीम बॉलीवुड स्टार ऋतिक रोशन और अर्जुन कपूर की टीम है। दीपक देवरानी की बहन पूनम देवरानी ने राज्य समीक्षा की टीम से बातचीत में बताया कि अपने भाई को उन्होंने बीमार हालत में भी देखा और चोटिल हालत में भी देखा है, इसके बाद भी वो कभी हारे नहीं। आगे बढ़े और फुटबॉल की दुनिया में इतिहास रचते रहे। अपने क्लब, नेशनल और इंटरनेशल करियर में दीपक देवरानी अब तक कुल 8 गोल दाग चुके हैं। घर में दो भाई और एक बहन हैं। पिता दिल्ली में ही नौकरी करते हैं और मां गृहणी हैं। दीपक के बड़े भाई भी दिल्ली में ही नौकरी करते हैं, जबकि बहन पूनम अभी पढ़ाई कर रही हैं।

यह भी पढें - Video: रुद्रप्रयाग के चिंग्वाड़ गांव का जुनूनी बेटा, जिसे देश ‘फाइटर’ के नाम से जानता है
आज आप दिल्ली के हर फुटबॉल क्लब में चले जाइए और वहां दीपक देवरानी का नाम पूछिए। आपको लगभग हर खिलाड़ी से उनके बारे में जानकारी मिल जाएगी। भूरी आंखों वाला ये लड़का अपने दोस्तों और खिलाड़ियों के बीच ‘भूरी’ नाम से ही फेमस है। वैसे उत्तराखंड के भी बहुत कम लोग जानते हैं कि उनके पहाड़ से निकला एक लड़का देश और दुनिया में उत्तराखंड का नाम रोशन कर रहा है। दुख इस बात का भी है कि आज क्रिकेट और क्रिकेटर्स के नाम ही भारत के ज्यादातर लोगों को पता हैं। दुनियाभर में फुटबॉल सबसे बड़े खेल के रूप में जाना जाता है और भारत में ये ही खेल दम तोड़ रहा है। इस बीच कुछ ऐसे लोग और कुछ ऐसे युवा हैं, जो इस खेल को जिंदा रखे हुए हैं। पौड़ी के दीपक देवरानी को हार्दिक शुभकामनाएं। इसी तरह से आगे बढ़िए और जिंदगी के नए मुकामों को हासिल कीजिए।


Uttarakhand News: Story of deepak devrani footballer from uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें