Video: एक महिला..जिन्होंने उत्तराखंड को Red FM का तोहफा दिया, अब पहाड़ का हुनर तराशेंगी

Video: एक महिला..जिन्होंने उत्तराखंड को Red FM का तोहफा दिया, अब पहाड़ का हुनर तराशेंगी

Nisha narayanan coo of red fm  - Nisha narayanan, red fm uttarakhand , uttarakhand,उत्तराखंड,

ये वीडियो देखिए और अंदाजा लगाइए कि उत्तराखंड के युवाओं, हुनरमंदों, कलाकारों, लोकगायकों को जब एक बड़ा मंच मिलने लगे तो इससे बेहतर क्या होगा ? हर कोई जानता है कि रेडियो इसके लिए बेहतर माध्यम है। 11 जुलाई को उत्तराखंड में Red FM लॉन्च हो गया था। देवभूमि को पहला कमर्शियल रेडियो चैनल मिला तो खुशी का माहौल था। लेकिन कुछ बातें ऐसी है, जिसके बारे में आपका जानना बेहद जरूरी है। एक महिला, जो कामयाबी की बुलंदियों पर होने के बाद भी उत्तराखंड की प्रतिभाओं से अच्छी तरह वाकिफ हैं। एक महिला, जिन्होंने युवाओं को साथ लेकर Red FM को नई बुलंदियों पर पहुंचाया और देश का नंबर वन रेडियो स्टेशन बनाया। वो हैं Red FM की COO निशा नारायणन। वो इस बात को अच्छी तरह से जानती हैं कि उत्तराखंड में हुनरमंदों की कमी नहीं है। राज्य समीक्षा से खास बातचीत में उन्होंने कुछ बड़ी बातें बताई हैं।

यह भी पढें - ‘एक पहाड़ी ऐसा भी’...DM मंगेश घिल्डियाल की ये कहानी लाखों दिलों को छू गई
राज्य समीक्षा की टीम ने जब निशा नारायणन बात की, तो पता चला कि पहाड़ के युवाओं, लोकगायकों, कवियों, लेखकों के लिए एक खास मंच तैयार किया जा रहा है। निशा कहती हैं कि ‘रेडियो अपने आप में प्रसार का एक ताकतवर जरिया है और उत्तराखंड में कूट-कूटकर प्रतिभाएं भरी हैं। चाहे म्यूजिक हो, सिंगिंग हो, डांस हो, कविताएं हों.. हर क्षेत्र में उत्तराखंड के लोग बेहतरीन हैं। इसलिए इन्हें एक बड़ा मंच मिलना जरूरी है। इसलिए Red FM एक ऐसा प्लेटफॉर्म तैयार कर रहा है, जहां ऐसे हुनरमंदों को दुनिया के सामने पेश किया जाए’। Red FM में RJ काव्य के नाम से मशहूर उत्तराखंड के बागेश्वर जिले के कविंद्र सिंह का कहना है कि ‘निशा नारायणन की वजह से ही उनका अपने राज्य में वापस लौटने का सपना पूरा हुआ। यानी इतना समझ लीजिए कि अगर आप में भी हुनर है, तो Red FM आपका मंच है। निशा नारायण की इस सोच का सलाम।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Nisha narayanan coo of red fm

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें