10 दिन में 2324 चालान, 117 गाड़ियां सीज...एक्शन में उत्तराखंड पुलिस, जानिए क्यों?

10 दिन में 2324 चालान, 117 गाड़ियां सीज...एक्शन में उत्तराखंड पुलिस, जानिए क्यों?

Uttarakhand police action for road safety  - Uttarakhand news, uttarakhand police  ,उत्तराखंड,

अगर आप उत्तराखंड में बेपरवाही से गाड़ी चला रहे हैं, तो जरा सावधान रहिए। क्योंकि अगले ही मोड़ पर आपकी मुलाकात पुलिस से हो सकती है। उत्तराखंड पुलिस के द्वारा 25 जून से ये अभियान शुरू किया गया है। 25 जून से अब तक 2,324 वाहनों का चालान काटा गया है। इसके अलावा इन दस दिनों के भीतर ही 117 वाहनों को सीज कर दिया गया है। अब आपको ये भी बता देते हैं कि आखिर किस वजह से ऐसा काम हो रहा है। दरअसल उत्तराखंड पुलिस की नजर बाइक पर स्टंटबाज़ी करने वाले युवकों पर सबसे ज्यादा है। इसके अलावा अगर आपकी गाड़ी में तेज हॉर्न लगा है, या फिर प्रेशर हॉर्न लगा है, तो आपकी गाड़ी का भी चालान हो सकता है। अगर आपकी गाड़ी में मॉडिफाइड साइलेंसर लगा हुआ है, तो इस हालात में भी आपका चालान कट सकता है।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड पुलिस के सिपाही का फैन बना ज़माना, फिर गाया दिल को छू लेने वाला गीत
दरअसल मॉडिफाइड साइलेंसर, तेज हॉर्न और प्रेशर हॉर्न की वजह से ध्वनि प्रदूषण बहुत ज्यादा होता है। इसके लिए कुछ मानक पहले से ही तय किए गए हैं। 25 जून से अब तक उत्तराखंड में प्रेशर हॉर्न इस्तेमाल करने वाले 1726 वाहनों का चालान किया गया है। इसके साथ ही 70 वाहनों को सीज किया गया। इसके अलावा मॉडिफाईड साइलेंसर के प्रयोग करने वाले 514 वाहनों का चालान हुआ है और 30 वाहनों को सीज किया गया। स्टंट बाईकिंग करने वाले 84 दुपहिया वाहनों का चालान काटा गया है और 17 वाहनों को सीज किया गया है। यानी कुल मिलाकर दस दिन के भीतर ही 2,324 वाहनों का चालान काटा गया है और 117 वाहनों को सीज कर दिया गया है। आगे भी ये सिलसिला लगातार जारी रहेगा और पुलिस की कार्रवाई भी जारी रहेगी।

यह भी पढें - उत्तराखंड के पुलिसकर्मियों पर राष्ट्रपति को गर्व, दिल्ली लौटकर बताई खास बात !
एडीजी लॉ एंड ऑर्डर अशोक कुमार के द्वारा 25 जून, 2018 से इस विशेष अभियान को शुरु किया गया है। इस अभियान के तहत पुलिस प्रदेशभर में कार्रवाई कर रही है। इसलिए आप भी सावधान रहें और अपनी गाड़ी पर ध्यान दें। अगर मॉडिफाइड साइलेंसर और प्रेशर हॉर्न जैसी चीजें आपकी गाड़ी में लगी हैं, तो इसे हटा लें। उत्तराखंड पुलिस ने अपने फेसबुक पेज पर भी इस बात की जानकारी दी है। आप भी देखिए।

#प्रेशर_हॉर्न_मॉडिफाईड_साइलेंसर_और_बाईक_स्टंट_करने_वालों_की_उत्तराखण्ड_पुलिस_ने_लगाई_क्लास

लोगों की जान को ताक पर रख कर...

Posted by Uttarakhand Police on Saturday, July 7, 2018


Uttarakhand News: Uttarakhand police action for road safety

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें