Connect with us
Image: Uttarakhand tilu rauteli award

देवभूमि की 13 बेटियों को सलाम, बेमिसाल कामों के लिए मिला उत्कृष्ट सम्मान

देवभूमि की 13 बेटियों को सलाम, बेमिसाल कामों के लिए मिला उत्कृष्ट सम्मान

महिलाओं को मजबूत बनाकर ही समाज को आगे ले जाया सकता है। समाज में सुधार के लिए दृढ़ संकल्प शक्ति और त्याग की भावना जरूरी है। उत्तराखण्ड ने हर बार साबित किया है कि इस धरती पर मातृ शक्ति की जबरदस्त भागीदारी रही है। इसलिए ऐसी बेटियों और माताओं को उत्कृष्ट काम के लिए तीलू-रौतेली सम्मान दिया जाता है। तीलू रौतेली पुरस्कार का उद्देश्य उन महिलाओं के काम को मान्यता देना है जिन्होंने समाज सुधार के लिए बेहद संघर्ष किया है। इस बार भी अद्वितीय काम करने वाली 13 बेटियों को सम्मानित किया गया है। रूद्रप्रयाग जिले की उपासना सेमवाल को सम्मानित किया गया। उपासना ने बालिका शिक्षा, दहेज उत्पीड़न, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान और समाज में कुरितियों खिलाफ जागरूकता अभियान चलाया था। इसके अलावा और भी बेटियों के बारे में जानकर आपको गर्व होगा।

यह भी पढें - उत्तराखंडियों को अपनी मातृभाषा से कितना प्यार है ? रिसर्च में सामने आई हैरान करने वाली बातें
पिथौरागढ़ की हेमा थलाल, जिन्होंने बेटियां बचाने और कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए जागरूकता अभियान चलाया। नैनीताल की त्रितिक्षा कपिल, जिन्होंने ताईक्वाडों में राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृट प्रदर्शन किया। अल्मोड़ा हेमलता भट्ट, जिन्होंने जरूरतमन्दों को निःशुल्क भोजन और बाकी सुविधाएं पहुंचाकर समाजसेवा का काम किया। बागेश्वर की पल्लवी उप्रेती, जिन्होंने ताईक्वाडों में राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। उत्तरकाशी की सविता चमोली और उषा किरण बिष्ट, जिन्होंने पहाड़ की बेटियों को नेशनल लेवल की खेलकूद प्रतियोगिताओं तक पहुंचाया। उत्तरकाशी की छब्बी देवी, जिन्होंने अपनी दो बेटियों की जान बाघ से लड़कर बचाई। उधमसिंगनगर की निर्मला, जिन्होंने दिव्यांग होने के बाद भी खेलों में इतिहास रचा। इन सभी को तीलू-रौतली सम्मान मिला है।

यह भी पढें - तैयार हुए देवभूमि के दो जांबाज, पाकिस्तान के खिलाफ एक मिशन पर डोभाल और रावत!
इसके अलावा उधमसिंहनगर की शायरा बानो, जिन्होंने तीन तलाक पर सर्वोच्च न्यायालय तक लड़ाई लडी। देश में तीन तलाक पर रोक लगवाने का श्रेय शायरा बानो को ही जाता है। इसके साथ ही 20 आंगनबाड़ी में काम करने वाली महिलाओं को राज्य आंगनबाड़ी कार्यकत्री सम्मान दिया गया है। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा इन सभी बेटियों को सम्मानित किया गया। इन सभी को उज्जवल भविष्य के लिए राज्य समीक्षा की टीम की ओर से भी शुभकामनाएं।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

related articles
More..
वीडियो : श्री बदरीनाथ धाम से जुड़े अनसुने रहस्य
वीडियो : बाघ-तेंदुओं से अकेले ही भिड़ जाता है पहाड़ का भोटिया कुत्ता
वीडियो : खूबसूरत उत्तराखंड : स्वर्गारोहिणी
Loading...

उत्तराखंड समाचार

Loading...

उत्तराखंड की ट्रेंडिंग खबरें

वायरल वीडियो

इमेज गैलरी

Trending

SEARCH

To Top