देहरादून के छात्र को मोदी सरकार देगी सवा करोड़ की छात्रवृत्ति, कनाडा से करेंगे PHD

देहरादून के छात्र को मोदी सरकार देगी सवा करोड़ की छात्रवृत्ति, कनाडा से करेंगे PHD

Dehradun vikas got scholarship from central govt  - Uttarakhand news, vikas kumar, dehradun ,उत्तराखंड,

हुनर बोलता है...खासतौर पर उत्तराखंड के छात्रों की बात कुछ अलग ही है। क्या आप जानते हैं कि देहरादून के छात्र विकास को विदेश में शोध करने के लिए मोदी सरकार 1.25 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति देगी। विकास अब कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया से पीएचडी करेंगे। अब सवाल ये है कि आखिर विकास ने ऐसा क्या काम किया है कि उन्हें ये छात्रवृत्ति दी जाएगी ? इस बारे में हम आपको पूरी जानकारी दे रहे हैं। विकास देहरादून के बलबीर रोड निवासी हैं। उनके पुता का नाम मनोज कुमार और माता का नाम राजकुमारी है। विकास ने द्रोणाज इंटरनेशनल स्कूल से 12वीं की थी और इसके बाद कुमाऊं इंजीनियरिंग कॉलेज द्वाराहाट से बायोकेमिकल में बीटेक किया। इसके बाद उनका सलेक्शन IIT गुवाहाटी में एनर्जी रिसर्च के लिए हो गया।

यह भी पढें - पहाड़ की बेटी ने जलाई स्वरोजगार की मशाल
IIT गुवाहाटी में पढ़ते हुए विकास के 30 से ज्यादा रिसर्च राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पत्रिकाओं में पब्लिश हुई। आईआईटी से ही विकास ने धान के भूसे से बायोफ्यूल बनाने का काम शुरू कर दिया। मेहनत करते रहे और कामयाबी भी हासिल होती रही। एमटेक पूरा हुआ तो विकास ने विदेशी विश्वविद्यालयों में पीएचडी के लिए आवेदन किया। अच्छी बात ये रही कि यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया ने विकास का आवेदन स्वीकार कर लिया। इसके बाद विकास का इंटरव्यू लिया गया तो इसमें भी उनका सलेक्शन हो गया। खास बात ये है कि कोलंबिया यूनिवर्सिटी का SERB के साथ करार है। ऐसे में पीएचडी पूरी करने के लिए विकास को केंद्र सरकार से सवा करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप मिली है। खास बात ये है कि विकास के आने जाने का खर्च भी केंद्र सरकार ही वहन करेगी।

यह भी पढें - चमोली की बेटी ने इंजीनियरिंग छोड़ी और पहाड़ों को चुना
शर्त ये है कि पीएचडी पूरी होने के बाद विकास को देश के लिए काम करना होगा। दरअसल SERB यानी विज्ञान और इंजीनियरिंग अनुसंधान बोर्ड, केंद्र सरकार की एक संस्था है। ये संस्था होनहार छात्रों को दुनिया के टॉप विश्वविद्यालयों में पढ़ने का मौका देती है। सरकार ने इस बोर्ड के माध्यम से कई विदेशी विश्वविद्यालयों से करार किया है। इसके तहत जिन भारतीय छात्रों का चयन विदेशी क विश्वविद्यालयों में होता है, वो चाहें तो स्कॉलर शिप का फायदा उठा सकते हैं। कनाडा, अमेरिका, इंग्लैंड समेत कई देशों में छात्रों को पढ़ने का मौका मिलता है। विकास को छात्रवृत्ति एसईआरबी की ओर से दी जाएगी। विकास के पास इससे संबंधित ई-मेल आ चुका है और देहरादून का ये लड़का अब नई उड़ान भरने के लिए तैयार है। सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं ।


Uttarakhand News: Dehradun vikas got scholarship from central govt

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें