पहाड़ में दो डिग्री कॉलेज खोलेगा पतंजलि योगपीठ, 4 बदहाल स्कूलों की भी सूरत संवरेगी

पहाड़ में दो डिग्री कॉलेज खोलेगा पतंजलि योगपीठ, 4 बदहाल स्कूलों की भी सूरत संवरेगी

Patanjali to open higher sanskrit schools in uttarakhand  - Uttarakhand news, arvind pandey, ramdev ,,उत्तराखंड,

उत्तराखंड के लिए एक शानदार खबर है। ये तय हो गया है कि पहाड़ में दो संस्कृत कॉलेज खोले जाएंगे और इन महाविद्यालयों की पूरी जिम्मेदारी पतंजलि योगपीठ के द्वारा निभाई जाएगी। खुद पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण ने ये बात बताई है। खास बात ये भी है कि उत्तराखंड में 4 बदहाल पड़े विद्यालयों की जिम्मेदारी भी पतंजलि योगपीठ लेगा और पतंजलि के द्वारा ही इन्हें संवारा जाएगा। पहला महाविद्यालय कुमाऊं के रुद्रपुर में खोला जाएगा। इसके अलावा दूसरा महाविद्यालय पौड़ी गढ़वाल में खोला जाएगा। दोनों ही महाविद्यालयों में 1-1 हजार छात्रों को प्रवेश दिया जाएगा। खास बात ये है कि इन्हीं महाविद्यालयों में छात्रावास का इंतजाम भी पतंजलि योगपीठ के द्वारा किया जाएगा। यहां शिक्षा के लिए सबसे बेहतर माहौल तैयार किया जाएगा।

आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि बाकी 4 और भी बदहाल पड़े विद्यालयों की जिम्मेदारी पतंजलि योगपीठ लेगा और इन्हें भी बाद में आवासीय महाविद्यालय में तब्दील किया जाएगा। इसके लिए बकायदा सचिवालय में संस्कृत शिक्षा की समीक्षा बैठक ली गई और इसमें ही ये फैसला लिया गया। इस बैठक में पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण भी मौजूद थे। इन महाविद्यालयों में शिक्षकों के वेतन और समस्याओं के समाधान की योजना भी तैयार हो रही है। आचाक्य बालकृष्ण का कहना है कि संस्कृत को रोजगार से जोड़कर ज्यादा से ज्यादा छात्रों को सक्षम बनाया जाएगा। मीडिया से बातचीत में उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि अगर किसी के पास इससे अच्छा प्लान है तो उनके पास लेकर आ सकते हैं।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि संस्कृत शिक्षा को अब रोजगार से जोड़ने की तैयारी हो रही है। इसके लिए बकायदा पाठ्यक्रम तैयार होगा। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने इस मीटिंग को लेकर बकायदा ट्वीट भी किया है।
education minister arvind pandey uttarakhand


Uttarakhand News: Patanjali to open higher sanskrit schools in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें