पहाड़ के रोशन रतूड़ी का प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और रक्षामंत्री के नाम खुला खत, आप भी पढ़िए

पहाड़ के रोशन रतूड़ी का प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और रक्षामंत्री के नाम खुला खत, आप भी पढ़िए

Roshan raturi letter to pm modi - Uttarakhand news, roshan raturi  ,उत्तराखंड,

एक तरफ सीमा पर शहीद होते जवान और दूसरी तरफ सूनी होती मां की कोख। उत्तराखंड की भी कुछ ऐसी ही कहानी है। हाल ही में मानवेंद्र सिंह रावत और विकास गुरुंग जैसे वीर उत्तराखंड में खो दिए। तीन दिनों के भीतर ही उत्तराखंड के दो जवानों का शहीद हो जाना, कश्मीर में जवान औरंगजेब को अगवा करने के बाद हत्या करना और आतंकियों के खिलाफ खबर लिखने वाले कश्मीर के पत्रकार की सरेआम हत्या कर देना...ये कुछ ऐसे वाकये हैं, जिनसे खून खौल उठता है। हर तरफ से सवाल है कि आखिर कब तक ? आखिर कब तक खामोश बेठा जाएगा। ऐसे में विदेश में लोगों की मदद करने वाले और उत्तराखंड से ताल्लुक रखने वाले समाजसेवी रोशन रतूड़ी ने पीएम मोदी, गृहमंत्री और रक्षामंत्री के नाम एक खुला खत लिखा है। आप भी पढ़िए।

यह भी पढें - रोशन रतूड़ी की अपील...पहाड़ के गरीब युवा की मदद कीजिए
रोशन रतूड़ी ने लिखा है कि ‘माननीय यशस्वी ,प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह जी, रक्षामंत्री श्रीमती सीतारमण जी, सादर नमस्कार। हम सब भारतवासी आपसे निवेदन करते हैं कि देश की सुरक्षा के लिए सीमा पर जम्मू कश्मीर में तैनात सभी वीर जवान सैनिकों को खुली आज़ादी दी जाए। कब तक हमारे वीर जवान दुश्मनों के पत्थरों की मार खाते रहेंगे और शहीद होते रहेंगे ? भारत माता के वीर जवान सैनिक पत्थर खाने के लिए भारतीय सेना में भर्ती नहीं हुए हैं। ये भी किसी माँ के बेटे है दर्द इनको भी होता है। माननीय ग्रहमंत्री राजनाथ सिंह जी, देश की सुरक्षा के मामले मैं दुश्मनों से कोई समझौता नहीं ,आपसे एक सौ तैतीस करोड़ भारतीयों की उम्मीदें है, राजनीती आप सब बाद में भी कर सकते हैं। देश सुरक्षित रहेगा तो आप सब भी तभी सुरक्षित रहेंगे’।

यह भी पढें - उत्तराखंड में एक बाप ने अपना परिवार ही खत्म कर दिया...अपने हाथों से
रोशन रतूड़ी ने आगे लिखा है कि ‘देश सुरक्षित तभी रहेगा जब हमारे वीर जवान सैनिकों को shoot and sight का आदेश दिया जायेगा। जिससे हमारे वीर जवान सैनिक अपनी आत्मरक्षा व देश की सुरक्षा के लिए दुश्मनों को मुँह तोड़ ज़बाब दे सकें, अब और नहीं देखा जाता। आये दिन हमारे वीर जवान सैनिक निहत्थे शहीद हो रहे हैं और पत्थरों से मार मार कर भगाया जा रहा है। ये भारतीय सेना की पहचान नहीं...इनके हाथों का बांधा ना जाए। शेरों को खुला छोड़ दिया जाए और शेर खुले ही अच्छे लगते है। माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी आपसे हम सब देशवासियों को और सभी वीर सैनिकों को बहुत सारी उम्मीदें हैं। आपके रहते हमारे वीर जवान सैनिकों का मनोबल बढ़ना चाहिए, हर तरह से हमारे भारत सीमा पर तैनात वीर जवान सैनिकों को ज़रूरती सुविधाएँ उपलब्ध कराई जायें’।

यह भी पढें - उत्तराखंड का लाल...दिल्ली छोड़कर अपने गांव आता है, बच्चों को पढ़ाता है
रोशन रतूड़ी आगे लिखते हैं कि ‘प्रधानमंत्री जी... देश मैं तभी राष्ट्रपति, आप और सब मन्त्री, सांसद, विधायक और अन्य दूसरे लोग सुरक्षित रहेंगे जब सीमा पर तैनात हमारे वीर जवान सैनिकों को सीमा पर दुश्मनों को मारने की खुली छूट दी जायेगी। जिससे हमारे वीर जवान सैनिकों का मनोबल बढ़ेगा और देश सुरक्षित रहेगा, तभी देश का सही तौर पर विकास होगा और आपसी भाई चारा शान्ति बनी रहेगी’। रोशन रतूड़ी एक समाजसेवी हैं, जो विदेश में रहकर अब तक कई भारतीयों की मदद कर चुके हैं। हाल ही में तीन दिन के भीतर ही उत्तराखंड ने मानवेंद्र सिंह रावत और विकास गुरुंग जैसे वीरों को खोया है। उधर कश्मीर में जवान औरंगजेब की अगवा होने के बाद हत्या और पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई। ऐसे में हर तरफ आक्रोश का माहौल है। इस बीच रोशन रतूड़ी का ये खत भी अब वायरल हो रहा है।


Uttarakhand News: Roshan raturi letter to pm modi

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें