Video: उत्तराखंड में जगह-जगह आसमानी कहर…12 साल की बच्ची की दर्दनाक मौत

Video: उत्तराखंड में जगह-जगह आसमानी कहर…12 साल की बच्ची की दर्दनाक मौत

Rainfall and landslide in uttarakhand  - Uttarakhand news, uttarakhand rain ,उत्तराखंड,

उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद जगह जगह मौसम अपना कहर बरपा रहा है। मौसम विभाग ने पहले ही चेतावनी जारी कर दी थी कि पहाड़ी जिलों में बारिश के बाद लोगों को नुकसान उठाना पड़ सकता है। मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हुई और बारिश ने जगह जगह विकराल रूप धारण कर दिया। बारिश की वजह से कई जगह पुश्ते बह गए और कई जगह मकान भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। दुख की बात ये भी है कि मौसम के कहर की वहज से 12 साल की एक बच्ची की मौत भी हुई है। मूसलाधार बारिश की वजह से रुद्रप्रयाग और गौरीकुंड हाईवे पर गंगतल-रामपुर के बीच हाल ही में तैयार किए हए दो पुस्ते ध्वस्त हो गए। दो महीने पहले ही इन पुस्तों का निर्माण हुआ था। इस वजह से रुद्रप्रयाग गौरीकुंड हाइवे काफी संवेदनशील हो गया है।

यह भी पढें - उत्तराखंड मूसलाधार बारिश के बाद जनजीवन अस्त व्यस्त
मौके का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम मंगेश घिल्डियाल ने इस पर नाराजगी जताई है। नेशनल हाईवे के इंजीनियरों से जवाब मांगा गया है। दर्दनाक खबर ये है कि थराली में आंधी की वनजह से चीड़ के पेड़ गिर गए। इसकी चपेट में औने से 12 साल की बच्ची की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि ऊंग गांव की दीक्षा शाम 6 बजे अपनी सहेलियों के साथ पानी लेने धारे पर गई थी। इस दौरान तेज आंधी आई और धारे के आसपास के पेड़ टूटकर गिर गए। इस दौरान दीक्षा चीड़ के पेड़ की चपेट में आ गई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। दीक्षा नवोदय विद्यालय गैरसैंण में छठवीं कक्षा की छात्रा थी। आजकल गर्मियों की छुट्टियों में वो अपने परिवार के साथ गांव आई थी। उधर नयार घाटी में मूसलाधार बारिश के बाद जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है।

यह भी पढें - टिहरी में शिक्षक ने किया छात्रा से चाकू की नोक पर रेप
नयार घाटी में करीब 6 घंटे तक मूसलाधार बारिश हुई। इस वजह से सतपुली में डिग्री कालेज के पास भारी मात्रा में मलबा आ गया। मोटर मार्ग अवरूद्ध के बाद सुबह 10 बजे तक इसे खोला जा सका। ओडलसैंण झरने के पास भी भारी बारिश के बाद मलबा आया और इससे यातायात कई घंटों तक बाधित रहा। बताया जा रहा है कि चैलूसैण गांव में भी एक गौशाला ढह गई है। सतपुली में सड़कों और रास्तों में भारी बारिश के बाद करीब एक फीट तक पानी भर गया। आप श्रीनंगर का ये नज़ारा भी देखिए।


Uttarakhand News: Rainfall and landslide in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें