उत्तराखंड ने फिर कायम की बादशाहत, इस बार भी देश को दिए सबसे ज्यादा आर्मी अफसर

उत्तराखंड ने फिर कायम की बादशाहत, इस बार भी देश को दिए सबसे ज्यादा आर्मी अफसर

Uttarakhand become number one state to produce army officer in terms of population - Uttarakhand news, army officer, uttarakhand number,उत्तराखंड,

दुनिया के सबसे बड़ी सैन्य अकादमियों में शुमार इंडियन मिलिट्री एकेडमी में हाल ही में पासिंग आउट परेड हुई है। इस पासिंग आउट परेड में देश के कुल 383 जांबाजों ने अपने कंधे पर दो सितारे सजा दिए। अंतिम पग रखते ही देश की सेना को 383 अधिकारी मिल गए। इसमें सबसे खास बात ये रही कि उत्तराखंड ने अपनी बादशाहत कायम रखी है। जनसंख्या के लिहाज से उत्तराखंड ने देश को सबसे ज्यादा आर्मी ऑफिसर दिए हैं। इस बार उत्तराखंड ने पंजाब, महाराष्ट्र, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, जम्मू एंड कश्मीर, मध्य प्रदेश और तमिलनाडु जैसे राज्यों को पीछे छोड़ दिया। खास बात ये भी है कि देश को सबसे ज्यादा आर्मी अफसर देने के मामले में उत्तराखंड पिछले साल भी नंबर एक पोजीशन पर ही था और इस बार भी बादशाहत कायम की है।

यह भी पढें - उत्तराखंड का लाल..12 लाख की नौकरी छोड़कर बना आर्मी ऑफिसर
इस वक्त देश के आर्मी चीफ बिपिन रावत भी उत्तराखंड से ही ताल्लुक रखते हैं। आपको याद होगा कि एक बार आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि ‘देखना एक दिन हम पहाड़ी सबसे ऊंचे शिखर पर जाकर दुनिया को बता देंगे कि हम कौन हैं।’ जनरल बिपिन रावत की ये बात सच साबित होती दिख रही है। उत्तराखंड की आबादी देश की आबादी की महज .84 फीसदी है लेकिन देशसेवा और देशभक्ति के मामले में देश को सबसे ज्यादा वीर देने वाली धरा भी देवभूमि ही है। भले ही उत्तर प्रदेश से इस बार 72 युवा आर्मी अफसर बने हैं लेकिन उत्तर प्रदेश की आबादी 21 करोड़ 92 लाख है। इसका मतलब हुआ कि 30 लाख 44 हजार युवाओं में से एक आर्मी अफसर बना। उत्तराखंड की आबादी है 1 करोड़ 32 लाख। यानी 4 लाख युवाओं में से एक आर्मी अफसर बना।

यह भी पढें - पौड़ी में एक ही परिवार के तीन बेटे..आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में बने अफसर
ये आंकड़े साबित करने के लिए काफी हैं कि उत्तराखंड के युवाओं में देशभक्ति का कैसा जज्बा है। ये ही नहीं आपको ये भी बताना चाहते हैं कि अलग अलग युद्धों में भी उत्तराखंड ने देश को सबसे ज्यादा शहीद भी दिए हैं। करगिल युद्ध में उत्तराखंड के सबसे ज्यादा जवान शहीद हुए थे और ये आंकड़ा खुद रक्षा मंत्रालय का है।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Uttarakhand become number one state to produce army officer in terms of population

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें