कर्नाटक में भगवा लहर, मुस्लिमों की भी पहली पसंद बनी BJP, जानिए क्यों हारी कांग्रेस

कर्नाटक में भगवा लहर, मुस्लिमों की भी पहली पसंद बनी BJP, जानिए क्यों हारी कांग्रेस

BJP become biggest party in karnataka  - Karnataka election, bjp, narendra modi ,उत्तराखंड,, बीजेपी

मठ मंदिर वाला प्रयोग त्रिपुरा और कर्नाटक में अच्छे रिजल्ट दे गया। ऊपर से उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने यहां 33 सीटों पर चुनाव प्रचार किया था। खास बात ये है कि उन सभी 33 सीटों पर ही बीजेपी ने जबरदस्त बढ़त बनाई है। रुझानों में बीजेपी बहुमत के आंकड़े को पार कर गई। बीजेपी की इस जीत के साथ ही शेयर मार्केट भी जबरदस्त उछाल भर रहा है। निफ्टी ने 25 अंकों की उछाल हासिल की है।अब आप इस चुनाव का बड़ा फैक्टर भी समझिए। कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने बड़ा दांव चला था। कांग्रेस ने लिंगायत समुदाय को अल्पसंख्यक का दर्जा देने का प्रस्ताव पारित कर दांव खेला था। उस वक्त कहा जा रहा है कि लिंगायत समुदाय का एक बड़ा तबका बीजेपी की तरफ शिफ्ट हो सकता है।

यह भी पढें - उत्तराखंड के चायवाले का बेटा बना टॉपर, JEE मेन्स और 12 वीं में एक साथ दिखाया हुनर
यह भी पढें - देवभूमि में दर्दनाक हादसे से कोहराम, एक गांव से उठी 5 लोगों की अर्थियां
लेकिन जो नतीजे आए हैं, वो इन सभी भविष्यवाणियों को खारिज करते हैं। लिंगायतों के प्रभाव वाले इलाकों में बीजेपी ने 37 सीटों पर बढ़त बना दी। एक दिलचस्प आंकड़ा ये भी है कि परंपरागत रूप से कांग्रेस के समर्थक कहे जाने वाले मुस्लिम इलाकों में भी BJP ने बढ़त हासिल कर ली। मुस्लिम बहुल 10 सीटों पर बीजेपी फोर्थ गियर में आगे बढ़ी। सीधा सीधा कांग्रेस की हाथों से 10 सीटें छिन गई। निर्वाचन आयोग की ओर से जारी आधिकारिक रुझानों के मुताबिक बीजेपी 110 सीटों पर आगे चल रही है। ये सीधे तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए बड़ा झटका है। राहुल गांधी की हर रणनीति एक बार फिर फेल हो गई है। अब कांग्रेस पार्टी सिर्फ पंजाब, पुडुचेरी और मिजोरम में रह गयी है। एक बार फिर से पार्टी को सोचना होगा कि शीर्ष नेतृत्व बदले या नहीं ?


Uttarakhand News: BJP become biggest party in karnataka

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें