उत्तराखंड में भारत-चीन बॉर्डर पर घुसपैठ की आहट, सैटेलाइट फोन से मचा हड़कंप

उत्तराखंड में भारत-चीन बॉर्डर पर घुसपैठ की आहट, सैटेलाइट फोन से मचा हड़कंप

Use of satellite phone at india china border in uttarakhand  - उत्तराखंड न्यूज, uttarakhand news, uttarakhand bor,उत्तराखंड,

सवाल ये है कि क्या उत्तराखंड से सटी देश की सीमाएं सुरक्षित हैं ? डोकलाम के बाद से साफ दिख रहा है कि चीन द्वारा अब उत्तराखंड से सटी सीमाओं पर हरकतें की जा रही हैं। अब चीन से सटी भारतीय सीमा पर सैटेलाइट फोन मिलने के बाद से हड़कंप मच गया है। सुरक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि इसमें चीन की गुप्तचर एजेंसियों का हाथ हो सकता है। इस खबर के आने के बाद से भारतीय सुरक्षा एजेंसियां मामले की पड़ताल में जुट गई हैं। अमर उजाला में छपी खबर के मुताबिक मुनस्यारी के उपजिलाधिकारी कृष्ण नाथ गोस्वामी ने चीन की बॉर्डर के पास सैटेलाइट फोन के इस्तेमाल की पुष्टि की है। उपजिलाधिकारी के मुताबिक सेटेलाइट फोन से बात करने वाले ने फ्रैंच भाषा में बात की है। इसके अलावा भी कुछ खास बातें हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड की एक खबर से देश में हड़कंप, चीन की सबसे बड़ी चाल का खुलासा !
यह भी पढें - पहाड़ी शेर की हुंकार का असर देखिए, मोदी के जाते ही डोकलाम भूला चीन
उपजिलाधिकारी ने बताया कि इस वक्त पर्यटकों के आठ ग्रुप मिलम ग्लेशियर गए हुए हैं। वहां जाने के लिए किसी तरह की परमीशन की जरूरत नहीं होती है। उन्होंने बताया कि इनरलाइन लाखुड़ीभेल तक जाने की किसी ने भी परमीशन नहीं है। उनके मुताबिक खुफिया एजेंसियां इस मामले की जांच कर रही हैं। हालांकि खुफिया विभाग ITBP के द्वारा इस बात की पुष्टि नहीं की गई है। आपको बता दें कि चीन से सटी भारतीय सीमा पर पहले भी घुसपैठ की खबरें आ चुकी हैं। चमोली के बाराहोती सेक्टर में चीनी हेलीकॉप्टर घुसने की खबर आई थी। पहले भी खबरें आई हैं कि चीन द्वारा जासूसी के इरादे से सैटेलाइट फोन का इस्तेमाल होता रहा है। अब चीन सीमा के पास मिलम से मलारी के बीच सेटेलाइट फोन के प्रयोग की सूचना आई है।


Uttarakhand News: Use of satellite phone at india china border in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें