9 और 10 को फिर सताएगा मौसम, चेतावनी जारी, बद्री-केदार धाम में हुई बर्फबारी

9 और 10 को फिर सताएगा मौसम, चेतावनी जारी, बद्री-केदार धाम में हुई बर्फबारी

next 48 hours Uttarakhand will continue experiencing thunderstorms - chardham yatra, thunderstrom, uttarakhand news,उत्तराखंड,

देश के उत्तरी राज्यों में मौसम अपना रौद्र रूप दिखा रहा है। 7-8 मई को आंधी-तूफान आने की मौसम विभाग की चेतावनी के बाद निजी और सरकारी स्कूलों को बंद रखने के आदेश जारी किये गए हैं। उत्तराखंड ही नहीं बल्कि राजधानी दिल्ली समेत देश के 13 राज्यों में आंधी, तूफान और तेज बारिश की चेतावनी जारी की गयी है। मानसून से पहले ही खराब मौसम ने आम लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। बारिश के साथ ही आ रहे आंधी-तूफान ने आम के साथ ही किसानों की अन्य फसलों को भी जबरदस्त नुकसान पहुंचाया है, तो वहीं आंधी-तूफान ने अब तक लगभग 125 से ज्यादा लोगों की जिंदगी छीन ली है। अगले 48 घंटे देश के 13 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों के लिए खतरे से भरे हुए हैं। गौरतलब है कि भारतीय मौसम विज्ञान केन्द्र, देहरादून द्वारा राज्य के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान के अनुसार प्रदेश में अगले 48 घंटे में तेज आंधी तूफान एवं ओलावृष्टि की चेतावनी दी गई है।
snow fall in badrinath
(उत्तराखंड के बद्रीनाथ धाम में हुई बर्फबारी की ताजा तस्वीर)

यह भी पढें - उत्तराखंड में 24 घंटे बाद आ सकता है भयंकर तूफान, मौसम विभाग की इन जिलों को चेतावनी
केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम सहित चारों धामों में भारी बर्फबारी के बाद फिलहाल केदारनाथ यात्रा को रोक दिया गया है। बताया जा रहा है कि केदारनाथ में तकरीबन 3 इंच तक बर्फ गिरी है। वहीं केदारनाथ यात्रा पर गए उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत भी अपने सहयोगियों के साथ यहां पर फंस गए हैं। फिलहाल पुलिस की टीम यहां देशभर से पहुंचे श्रद्धालुओं की मदद कर रही है और मंदिर परिसर से यात्रियों को सुरक्षित स्थान पर पंहुचाया जा रहा है। मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि अगले 48 घंटों में कुदरत फिर कहर बरपा सकती है। गृह मंत्रालय की ओर से भी कहा गया है कि जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के कई स्थानों में आंधी-तूफान और ओलावृष्टि के साथ बारिश हो सकती है। यहाँ बता दें कि मई महीने की शुरुवात में ही कुदरत के कहर ने उत्तराखंड के साथ ही उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में करीब 124 लोगों की जान ले ली थी।
snow fall in badrinath
(उत्तराखंड के बद्रीनाथ धाम में हुई बर्फबारी की ताजा तस्वीर)

यह भी पढें - पहाड़ के हवलदार चाचा को जनरल बिपिन रावत का सलाम, वीरान होने से बचा लिया एक गाँव
मौसम विभाग के पूर्वानुमान को देखते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने समस्त जनपदों के जिलाधिकारियों को सतर्क रहने के साथ ही सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबन्धन सम्बन्धित समस्त सेवाओं को तत्पर रखने के साथ ही जन समुदाय को भी अवगत कराया जाए। मौसम विभाग के मुताबिक उत्तराखंड के साथ ही जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में भी गरज-बरज के साथ बारिश हो सकती है। पश्चिमी विक्षोभ की वजह से दिल्ली एनसीआर व उसके निकटवर्ती राज्‍यों में अगले दो दिनों में आंधी-तूफान के साथ बारिश होने की संभावना जताई जा रही है। राज्य समीक्षा की सभी लोगों से अपील है कि वे सतर्क रहें, सुरक्षित रहें।


Uttarakhand News: next 48 hours Uttarakhand will continue experiencing thunderstorms

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें