उत्तराखंड में चार धाम यात्रा का आगाज़, दुनिया बोली ‘जय देवभूमि’... तस्वीरें देखिए

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा का आगाज़, दुनिया बोली ‘जय देवभूमि’... तस्वीरें देखिए

Gangotri and yamunotri kapat open  - उत्तराखंड न्यूज, गंगोत्री, यमुनोत्री ,उत्तराखंड,

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा का आगाड़ गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खुलने के साथ हो गया है। इस पल की हम आपको कुछ बेहतरीन तस्वीरें दिखा रहे हैं। हमें यकीन है कि इन तस्वीरों को देखकर आप भी चार धाम यात्रा के लिए खिंचे चले आएंगे। बुद्धवार को अक्षय तृतीया के अवसर पर गंगोत्री- यमुनोत्री के कपाट आम श्रद्धालुओं के लिए दर्शनार्थ खोल दिये गये। अब 29 अप्रैल को सुबह 6.15 मिनट पर केदारनाथ और 30 अप्रैल को प्रात:4.30 बजे बदरीनाथ धाम के कपाट खुलेंगे। इस बीच गाजे बाजों के साथ मां यमुना खरसाली से यमुनोत्री धाम पधारी। उल्लास का माहौल चारों तरफ ा। हर कोई भक्ति भाव में डूबा हुआ था। यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत ने सभी को मां यमुनोत्री के कपाट खुलने की शुभकामनाएं हैं। आगे की स्लाइड क्लिक कर खूबसूरत तस्वीरें देखिए।

1/4 गंगोत्री 2
gangotri 2

गंगोत्री धाम,उत्तरकाशी। गंगोत्री धाम के कपाट बुधवार को अक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त पर वेदिक मंत्रोच्चार व पूजा अर्चना ,ढ़ोल व सेना के बैण्ड की थाप के बीच ठीक 1 बजकर 15 मिनट पर आम श्रद्धालुओं के लिए खोले गए है। कपाट खुलने के बाद गंगा की भोग मूर्ति को मन्दिर के अंदर स्थपित किया गया। इस दौरान अखंड ज्योति के भी दर्शन हुए जिसके उपरांत गंगा के जयघोष से गंगोत्री धाम गूंज उठा।

2/4 गंगोत्री 3
gangotri 3

इससे पूर्व बुधवार सुबह गंगा जी की डोली भैरव घाटी से पहुंची जंहा डोली का भव्य स्वागत हुआ। जिसके बाद मंगलद्वार को गणेश पूजन हुआ तदोपरांत मंदिर के कपाट खुले और वहां गंगा की भोग मूर्त्ति स्थापित की गईं। इस दौरान भारी संख्या में लोग मौजूद थे। कपाट खुलने के बाद हजारो की संख्या मे कतार मैं लगे लोगों ने मंदिर के दर्शन किए ।

3/4 गंगोत्री 4
gangotri 5

कपाट खुलने के मौके पर गंगोत्री विधायक गोपाल रावत, डीएम डॉ, अशीष चौहान।, कप्तान ददनपाल, सचिव गंगोत्री मंदिर सुरेश सेमवाल,मुकेश सेमवाल, अध्यक्ष मुकेश सेमवाल, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुनार, पूर्व विधायक विजय पाल समेत मंदिर समिति के लोग व तीर्थ पुरोहित मौजूद थे।

4/4 गंगोत्री 5
gangotri 6

कपाटोद्घाटन के अवसर पर मंदिर पुरोहित हरीश जी ने बताया कि 6 माह के बाद कपाट खुलने और इस दिन अक्षय तृतीया होने का बड़ा महत्व है क्योंकि गौमुख गंगोत्री से लेकर गंगा सागर तक गंगा अक्षय है। उन्होंने इस दिन दान को भी पुण्य बताया है। अब मां गंगा और मां यमुना के उद्गम स्थल के कपाट खुल गए हैं। आपका स्वागत है।


Uttarakhand News: Gangotri and yamunotri kapat open

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें