देहरादून में बेटियां बचाने की बेमिसाल मुहिम, ‘नवजात बच्चियों को फेंकें नहीं, हमें दीजिए’

देहरादून में बेटियां बचाने की बेमिसाल मुहिम, ‘नवजात बच्चियों को फेंकें नहीं, हमें दीजिए’

A message for publice to save girl child in dehradun  - उत्तराखंड न्यूज, रमेश भट्ट, देहरादून न्यूज ,उत्तराखंड,

कुछ ऐसी मुहिम पूरे उत्तराखंड में चलना जरूरी है। ‘नवजात बेटियों को मत मारिए, नवजात बच्चियों को मत फेंकिए, बल्कि हमें दे दीजिए’। बेटियां बचाने के लिए ये एक पवित्र मुहिम कही जा सकती है, जिसकी शुरुआत उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में हो चुकी है। इसके लिए सभी को जागरूक करना बेहद जरूरी है। इसत वजह से 15 अप्रैल को देहरादून में शिल्पा प्रोडक्शन द्वारा बेटियां बचाने के लिए एक खास रैली की शुरुआत की गई। इस रैली का मकसद ये है कि बेटियां समाज में सबसे अनमोल हैं। इस अभियान के तहत एक बाइक रैली का आयोजन किया गया। जगह जगह पहुंचकर ये संदेश पहुंचाया गया कि बेटियों के पालन-पोषण के लिए कुछ युवा हाथ खड़े हुए हैं। ये कार्यक्रम गांधी पार्क देहरादून से शुरू होकर पथरी भाग ब्लेसिंग फ़ार्म्स में सम्पन हुआ।

यह भी पढें - देहरादून में ऑटो वालों की ‘लूट’ बंद, 1 मई से सख्त नियम लागू, आम आदमी को राहत
रैली का शुभ आरंभ देहरादून SSP निवेदिता कुकरेती और सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट द्वारा किया गया। रमेश भट्ट ने इस दौरान बेटियों की महत्ता के बारें में सभी को बताया। साथ ही उन्होंने इस मुहिम की भी जमकर तारीफ की। इस रैली में 80 मोटरसाइकिल शामिल थीं। उत्तराखंड की बेटी शिल्पा भट्ट बहुगुणा द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि वह इस तरह के कार्यक्रम भविष्य में और भी करवाएंगी। बकौल शिल्पा समाज में पढ़े लिखे लोगों को ही जागरूक करना ज़रूरी हैं । जिस तरह बेटियों का तिरस्कार किया जा रहा है वो गलत है। ऐसे में शिल्पा भट्ट बहुगुणा ने सभी से अपील की हैं नवजात बच्चियों को फेंके नहीं बल्कि हमें दें, हम इन बच्चियों का लालन पोषण लेंगे। कार्यक्रम में श्रवण वर्मा, आशीष बहुगुणा आदि मौजूद थे ।


Uttarakhand News: A message for publice to save girl child in dehradun

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें