जिस बच्ची ने उत्तराखंड का मान बढ़ाया, उसे स्कूल ने निकाला...लड़कों के स्कूल में मिला एडमिशन !

जिस बच्ची ने उत्तराखंड का मान बढ़ाया, उसे स्कूल ने निकाला...लड़कों के स्कूल में मिला एडमिशन !

Dehradun girl shekinah mukhiya got admission n colonel brown school - उत्तराखंड न्यूज, शिकायना मुखिया,उत्तराखंड,

उत्तराखंड का मान देश के बड़े मंच बढ़ाने वाली शिकायना मुखिया के बारे में एक खबर निकलकर सामने आ रही है। आपको बता दें कि शिकायना मुखिया वॉयस इंडिया फेम हैं। 11 साल की शिकायना ने द वॉयस इंडिया किड्स शो में फाइनल तक पहुंचकर लाखों दिलों को जीता था। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक शिकायना मुखिया को कम उपस्थिति के चलते स्कूल को छोड़ना पड़ा है। बताया गया है कि स्कूल ने शिकायना को अगली क्लास में दाखिला देने से इनकार कर दिया। शो में हिस्सा लेने की वजह से शिकायना मुखिया की उपस्थिति अपनी कक्षा में काफी कम थी। अब शिकायना आगे की पढ़ाई लड़कों के स्कूल कर्नल ब्राउन से करेंगी। इस स्कूल में पढ़ने वाली शिकायना अकेली लड़की होगी। आपको बता दें कि शिकायना देहरादून के सेंट थॉमस में छठी क्लास में पढ़ती थी।

यह भी पढें - उत्तरकाशी के चांगसील ट्रैक पर भटके 20 लोग, रेस्क्यू के लिए SDRF की टीम रवाना
वॉयस इंडिया शो में शिकायना ने अपनी आवाज के दम पर अंतिम छह कंटेस्टेंट में जगह बनाई थी। शो में हिस्सा लेने की वजह से उसकी उपस्थिति छठी क्लास में काफी कम रही थी। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक स्कूल ने नियमों का हवाला दिया और इस उभरती हुई कलाकार को सातवीं क्लास में एडमिशन देने से इनकार कर दिया है। इस वक्त में कर्नल ब्राउन कैंब्रिज स्कूल ने शानदार पहल की। इस स्कूल ने शिकायना को अपने स्कूल में सातवीं क्लास में एडमिशन दिया और उसका एक साल बचा लिया। 1926 में स्थापित कर्नल ब्राउन स्कूल पूरी तरह से ब्वायज स्कूल है। स्कूल के नियमों के मुताबिक यहां सिर्फ लड़के ही एडमिशन ले सकते हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया वेबसाइट में बताया गया है कि शिकायना को सेंट थॉमस छूटने का अफसोस जरूर है लेकिन उन्हें खुशी है कि कर्नल ब्राउन स्कूल ने उन्हें एडमिशन दिया है।

यह भी पढें - Video: श्रीनगर गढ़वाल के MBBS छात्र, दुनिया को ऐसे जागरूक कर रहे हैं...देखिए
वैसे देखा जाए तो देश में स्कूलों के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब ब्वॉयज स्कूल ने केवल एक लड़की को दाखिला दिया है। उस लड़की को जिसने उत्तराखंड का नाम रोशन किया है। हिंदुस्तान वेबसाइट में मुख्य शिक्षा अधिकारी एसबी जोशी का बयान भी छपा है। बकौल जोशी ऐसा कहीं भी नियम नहीं है कि किसी कॉम्पिटीशन में भाग लेने वाले छात्र को स्कूल से बाहर कर दिया जाये। बताया जा रहा है कि बुधवार को नगर शिक्षा अधिकारी और बीईओ मामले का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। शिकायना कौन हैं, जरा ये वीडियो भी देखिए।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Dehradun girl shekinah mukhiya got admission n colonel brown school

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें