Video: बागेश्वर में बादल फटने से दहशत, सरयू नदी का जलस्तर बढ़ा, उफान पर गधेरे

Video: बागेश्वर में बादल फटने से दहशत, सरयू नदी का जलस्तर बढ़ा, उफान पर गधेरे

Cloudburst in Bageshwar uttarakhand  - उत्तराखंड न्यूज, बागेश्वर,उत्तराखंड,

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में जैसे ही बारिश का दौर शुरू होता है, तो लोगों के दिलों में एक डर सा बैठ जाता है। डर हो भी क्यों ना ? बीते कई सालों से उत्तराखंड ना जाने कितनी बार आपदा की मार झेल चुका है। इस बार बागेश्वर से कुछ ऐसी ही खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि बागेश्वर के कुकुडमाई जंगल में बादल फट गया। इसके बाद से अचानक सरयू नदी का जलस्तर बढ़ गया। स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया। गधेरे उफान पर हैं और लोगों को एहतियात बरतने की सलाह दी जा रही है। सरयू नदी का जलस्तर अचानक बढ़ने से लोगों में हड़कंप मच गया। जिलाधिकारी ने भी लोगों को एहतियात और सावधानी बरतने की सलाह दी है। अब आपको बताते हैं कि आखिर ये सब हुआ कैसे और किस तरह से लोग यहां मुश्किलों का सामना कर रहे हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड के लिए सच साबित हो रही है वैज्ञानिकों की चेतावनी, भूकंप से फिर हिली धरती
जिला आपदा प्रबंधन की टीम सरयू नदी के जलस्तर पर नजर बनाए हुए है। दरअसल मौसम विभाग ने पहले ही चेतावनी दी थी कि पहाड़ों में मूसलाधार बारिश के साथ साथ ओलावृष्टि हो सकती है। इसका असर बागेश्वर के पिण्डर घाटी क्षेत्र में देखने को मिला है। जिले के कई रास्तों में मलबा आ गया है और इस वजह से रास्ते भी बंद हो गए हैं। देर शाम कई इलाकों में अचानक तेज मूसलाधार बारिश हुई। इसके साथ ही ओलावृष्टि भी हुई। इसके कुछ देर बाद ही शहर में बहने वाला कैलखुरिया गधेरा उफान पर आ गया। इसके बाद तो आप पास के लोगों में खलबली मच गई। बताया गया कि गधेरे के स्रोत कुकुड़ामाई के जंगलों में है। वहां बादल फटने से गधेरा अचानक ही उफान पर आ गया। इस बीच जिला प्रशासन द्वारा लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी जा रही है।

यह भी पढें - देहरादून में धधक रही है ढाई सौ किलोमीटर जमीन, वैज्ञानिकों ने दी बड़े भूकंप की चेतावनी
इसके आलावा बागेश्वर के पिंडर घाटी के कई इलाकों में ओलावृष्टि के और मूसलाधार बारिश हुई है। बारिश की वजह से कपकोट और गरूड़ तहसील के संपर्क मार्ग बाधित हो चुके हैं। कपकोट क्षेत्र में आरे के पास सड़क पर मलबा गिर गया है। इस वजह से पिंडारी-बागेश्वर मोटर मार्ग पूरी तरह से बाधित हो गया है। इस बीच जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने तमाम लोगों को सतर्क रहने और सावधानी बरतने की सलाह दी है। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारियों के मुताबिक सरयू नदी के जलस्तर पर लगातार नजर रखी जा रही है। जिन जगहों पर मलबा आने से रास्ते बंद हो गए हैं, वहां जेसीबी मशीनों को रवाना कर दिया गया है। वक्त से पहले ही बादल फटने की घटना से लोग दहशत में हैं। ईटीवी द्वार तैयार किया गया ये वीडियो देखिए।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Cloudburst in Bageshwar uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें