गैरसैंण में त्रिवेंद्र सरकार ने पेश किया 45585 करोड़ रुपये का बजट, 2 मिनट में जानिए बड़ी बातें

गैरसैंण में त्रिवेंद्र सरकार ने पेश किया 45585 करोड़ रुपये का बजट, 2 मिनट में जानिए बड़ी बातें

Trivendra govt presents state budget 2018 - उत्तराखंड न्यूज, त्रिवेंद्र सिंह रावत,उत्तराखंड,

वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए गैरसैँण में त्रिवेंद्र सरकार ने 45585 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। आपको बता दें कि त्रिवेंद्र सरकार के कार्यकाल का ये दूसरा बजट है। त्रिवेंद्र सरकार ने पिछले साल 39957.20 करोड़ का बजट पेश किया था। इस साल का बजट पिछले साल के मुकाबले 14.08 फीसदी ज्यादा है। आइए बिना देर किए हुए आपको इस बजट की खास बातें बता देते हैं। वित्तीय वर्ष 2018-19 में बजट का 31.55 फीसदी खर्चा वेतन भत्ते मजदूरी में होगा। खास बात ये है कि उत्तराखंड को ऑर्गेनिक हर्बल स्टेट बनाने के लिए 1500 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा ग़ैरसैंण में अंतर्राष्ट्रीय संसदीय अध्ययन शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना होगी। इसके लिए भी धनराशि की अलग से व्यवस्था की गई है। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए होम स्टे योजना लाई जा रही है। इसके लिए 5 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है।

यह भी पढें - खुशखबरी: उत्तराखंड में डेढ़ लाख नई नौकरियां, 25 हजार करोड़ का निवेश होगा !
यह भी पढें - उत्तराखंड में टीचर बनने का बड़ा मौका, हजारों पदों पर होगी सीधी भर्ती
इसके अलावा भी इस बजट की कुछ और खास बातें हैं। देहरादून मेट्रो रेल निर्माण के लिए 86 करोड़ रुपये के बजट का प्राविधान किया गया है। उत्तराखंड में कामकाजी महिलाओं के बच्चों के लिए राष्ट्रीय क्रेच योजना के अंतर्गत 3 करोड़ 25 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा भोजन माताओं को वर्दी उपलब्ध कराने के लिए तीन करोड़ रुपये की धनराशि रखी गई है। राज्य में मातृ एवं शिशु कुपोषण रोकने के लिए 10 करोड़ 25 लाख 42 हजार का बजट तय किया गया है। । इस बार बजट में आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम वर्कर्स के लिए दुर्घटना बीमा योजना लाई गई है। इसके अलावा बजट में BPL परिवारों के मुखिया के लिए आम आदमी बीमा योजना में 11 करोड़ 37 लाख 15 हजार की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही किसानों के लिए दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के अंतर्गत 30 करोड़ की व्यवस्था की गई है।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड में मेगास्टार रजनीकांत ने कुछ ऐसा कहा कि त्रिवेंद्र सिंह रावत खुश हो जाएंगे !
यह भी पढें - उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार का एक साल, पलायन मिटाने और रोजगार के लिए बड़ी घोषणाएं
उत्तराखंड में सौंग बांध परियोजना के लिए 40 करोड रुपये के बजट की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा नैनीताल झील को पुनर्जीवित करने के लिए 5 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा खास बात ये है कि उत्तराखंड में उद्यमियों को निवेश के लिए डेस्टिनेशन उत्तराखंड का आयोजन करवाया जाएगा। इसके लिए 25 करोड़ रुपये के बजट की व्यवस्था की गई है। उत्तराखंड में में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने और पर्वतीय क्षेत्रों में पलायन रोकने के लिए ग्रोथ सेंटर की स्थापना होगी। इसके लिए 15 करोड़ की धनराशि की व्यवस्था की गई है। पर्यटन को बढ़ावा के लिए जगह जगह होम स्टे योजना चलाई जा रही है। इसके लिए 15 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। त्रिवेंद्र सरकार ने अपने कार्यकाल का दूसरा बजट गैंरसैंण में पहली बार पेश किया है। देखना होगा कि 45585 करोड़ रुपये का ये बजट आगे क्या रंग लाता है।


Uttarakhand News: Trivendra govt presents state budget 2018

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें