‘उत्तराखंड में खुदाई के दौरान मिला 10 टन सोना’, इस झूठी खबर का पूरा सच जानिए

‘उत्तराखंड में खुदाई के दौरान मिला 10 टन सोना’, इस झूठी खबर का पूरा सच जानिए

Truth behind viral post of gold found in uttarakhand - उत्तराखंड न्यूज, ऑल वेदर रोड,उत्तराखंड,

सोशल मीडिया आजकर क्या ना करवाए। झूठी खबर को तैयार कर कुछ ऐसे बना लिया जाता है, कि पलभर में ही वायरल हो जाता है। इसलिए बार बार ऐसी खबरों से दूरी बनाए रखने की भी बात कही जाती है। किसी भी खबर को फैलाने से पहले, उस खबर की तह तक जाना सबसे ज्यादा जरूरी है। इस बार तो कुछ बड़ा ही गया था, जिससे सरकार की भी नींद उड़ गई। दरअसल उत्तराखंड में ऑल वेदर रोड का काम चल रहा है। इस दौरान खबर फैलाई गई कि ऑल वेदर रोड में बदरीनाथ मार्ग पर खुदाई के दौरान दस टन सोना और चांदी का खजाना निकला। सोशल मीडिया पर लोगों ने बिना सोचे समझे ही इस खबर को इतना फैला दिया कि इस पर न्यूज भी तैयार होने लगी। विभाग के अधिकारी इस सवाल का जवाब देते देते थक गए। जब इस खबर की तह तक गए तो मायूसी के अलावा कुछ भी हाथ नहीं लगा।

यह भी पढें - Video: देहरादून में नशेड़ी का सड़क पर बवाल, पुलिस की वर्दी फाड़ी, महिला से की छेड़छाड़!
यह भी पढें - उत्तराखंड में जिंदा है अलाउद्दीन खिलजी ! वो बेरहमी से बेटियों की इज्जत लूट रहा है
सोशल मीडिया पर इस खबर को फैलाने के साथ साथ कुछ तस्वीरें भी पोस्ट की गईं। लेकिन सच कुछ और है। अधिकारियों का कहना है कि ये एक कोरी अफवाह है। इस वक्त ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग का ऑल वेदर रोड परियोजना में चौड़ीकरण कार्य चल रहा है। इस दौरान कहा गया कि खुदाई में करीब 10 टन सोने और चांदी के सिक्के निकले हैं। इसकी हकीकत कुछ और ही है। वायरल हुई खबर में जो तस्वीरें अपलोड की गई हैं, वो कुछ साल पूर्व अमरीका, ग्रेट ब्रिटेन और स्पेन की हैं। इन मुल्कों में खुदाई के दौरान सोने-चांदी के सिक्के और प्राचीन बर्तन मिले थे। लेकिन किसी विद्वान आदमी ने इन फोटो एक साथ जोड़कर ऑल वेदर रोड की खुदाई का बताते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया।ये पहली बार नहीं है, जब इस तरह की खबरों को वायरल किया गया हो।

यह भी पढें - देहरादून में नवरात्र से पहले हैवानियत का शिकार हुई बेटी, दहेज के दानवों ने मार डाला
यह भी पढें - देवभूमि को ये किसकी नज़र लग गई ? एक दुकान पर रेड पड़ी, तो होश उड़ गए
ऑल वेदर रोड परियोजना को लेकर इससे पहले भी एक अफवाह फैली थी, उस दौरान कहा गया था कि 2 मार्च से 20 मार्च तक चौड़ीकरण कार्य की वजह से सड़क कौडिय़ाला से देवप्रयाग के बीच बंद रहेगी। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले लोगों ने इस पोस्ट को बिना सोचे समझे ही फैला दिया। खास बात ये है कि इससे बाकी लोगों को काफी परेशानी होती है। लोनिवि राष्ट्रीय राजमार्ग खंड के अधिकारी इन बातों का जवाब देते देते थक गए थे। अब बीते दिनों से फिर एक और मैसेज सोशल मीडिया में शेयर हो है। इसमें फोटो अपलोड कर लिखा गया है कि हाईवे पर खुदाई के दौरान 10 टन सोना मिला है। जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है। इसलिए कभी भी सोशल मीडिया पर फैल रही झूठी खबरों की तरफ ध्यान ना दें। कुछ सोचें समझें और इसके बाद ही इस बारे में कोई फैसला लें। बाकी फोन आपके हाथ में है, आप कुछ भी कर सकते हैं।


Uttarakhand News: Truth behind viral post of gold found in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें