Video: उत्तराखंड के लाल ने दुनिया को दी भाईचारे की मिसाल, विदेश में बना सुपरहीरो

Video: उत्तराखंड के लाल ने दुनिया को दी भाईचारे की मिसाल, विदेश में बना सुपरहीरो

Roshan raturi saved burhamudding of asam in dubai  - उत्तराखंड न्यूज, रोशन रतूड़ी ,उत्तराखंड,

कहते हैं इंसानियत और भाइचारा ही दुनियाभर में प्यार और खुशियां बांटने का सबसे बड़ा हथियार है। हर घर रोशन हो सके, इसके लिए हर किसी को अपनी तरफ से छोटी-छोटी कोशिशें करनी चाहिए। उत्तराखंड के टिहरी के हिंडोलाखाल के रहने वाले रोशन रतूड़ी इसकी जीती-जागती मिसाल भी हैं। दुबई में एजेंट की वजह से परेशानी में जी रहे 544 लोगों को अब तक रोशन नई जिंदगी दे चुके हैं। रोशन ने कभी नहीं देखा कि सामने वाला हिंदू है, मुस्लिम है, सिख है या फिर ईसाई है। जिसकी आंखों मेॆ रोशन रतूड़ी ने बेबसी देखी, उसकी मदद के लिए आगे आगे। एक बार फिर से रोशन रतूड़ी ने एक जबरदस्त काम किया है। आसाम के गुवाहाटी के रहने वाले बुरहामउद्दीन की लिए रोशन रतूड़ी खुदा तो नहीं पर शायद खुदा से कम नहीं। शायद खुदा ने किसी दुआ में बुरहामुद्दीन को नैमतें बख्शी होंगी, जो रोशन रतूड़ी उनकी जिंदगी में आ गए।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड के युवा विदेश में फंसे, दो दिन बाद शादी थी...तभी देवदूत बना पहाड़ी सपूत
यह भी पढें - देवभूमि का लाल...दुबई में एक पहाड़ी को बचा लिया, वॉट्सऐप पर सिर्फ एक मैसेज मिला था
ना जाने कितने वक्त से बुरहामुद्दीन मुश्किलों में फंसे थे। कहीं से उन्हें रोशन रतूड़ी के बारे में पता चला, तो उनसे मिलने पहुंच गए। इसके बाद रोशन रतूड़ी ने उनकी परेशानी को सुना और उनकी परेशानियों को दूर करने के लिए चल पड़े। रोशन रतूड़ी कहते हैं कि ‘’मज़हब मत देखो । इंसानियत को ज़िंदा रखो । सब भारतीय हैं’’। इससे आगे रोशन रतूड़ी लिखते हैं कि ‘’एक और भारतीय भाई को तकलीफों से निकालकर उसके परिवार के पास सकुशल आसाम भेज रहा हूं। अब तक विदेशों में फंसे 544 लोगों को रोशन रतूड़ी बचा चुके हैं। रोशन कहते हैं कि अभी विदेशों में कई लोग फंसे हैं और उन्हें उनके परिवारो के पास भेजना है । रोशन कहते हैं कि बुरहाम उद्दीन जब उनके पास आया तो उनके गले लगकर बहुत रो रहा था । रोशन के ढाढस बंधाया और उसकी मदद में लग गए।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड को फूलदेई की बधाई, अमेरिका में पहाड़ी बच्चों की ये तस्वीर देखिए
यह भी पढें - Video: उत्तराखंड का सपूत विदेश में बना सुपरमैन, दुनियाभर के 543 लोगों की जान बचाई
बुरहाम उद्दीन पर जो जुर्माना था वो भी रोशन रतूड़ी ने ही भुगतान किया। रोशन कहते हैं कि विदेशों में जदब कोई किसी परेशानी में फंसता है तो बहुत तकलीफ़ होती। इस वजह से इंसानियत हमेशा ज़िदा रहनी चाहिए। धन्य है उत्तराखंड का ये सपूत। रोशन ने फेसबुक पर एक वीडियो भी अपलोड किया है। आप भी सुनिए कि आखिर रोशन क्या कह रहे हैं।


Uttarakhand News: Roshan raturi saved burhamudding of asam in dubai

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें