देहरादून: योगी आदित्यनाथ के पिता जौलीग्रांट अस्पताल में भर्ती , अचानक बिगड़ी तबीयत

देहरादून: योगी आदित्यनाथ के पिता जौलीग्रांट अस्पताल में भर्ती , अचानक बिगड़ी तबीयत

Yogi adityanath father hospitalised in dehradun - योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड न्यूज,उत्तराखंड,

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का उत्तराखंड से गहरा नाता है। पौड़ी के पंचूर गांव में उनका जन्म हुआ था। इस बीच खबर है कि पिता आनंद सिंह की तबीयत अचानक खराब हो गई है। बताया जा रहा है कि उन्हें देहरादून के जौली ग्रांट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के अधिकारी केसी जोशी का कहना है कि सीएम योगी के पिता आनंद सिंह बिष्ट की तबीयत अचानक खराब हो गई है। डॉक्टर्स का कहना है कि आनंद सिंह बिष्ट जी को डिहाइड्रेशन की शिकायत है। सोमवार को आनन-फानन में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उनकी जांच की जा रही है। अस्पताल के सीनियर डॉक्टर अकरम की देख-रेख में उन्हें रखा गया है। डॉक्टर्स का कहना है कि बढ़ती उम्र में डिहाइड्रेशन की शिकायत हो जाती है। फिलहाल आनंद सिंह बिष्ट को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है और अगले मेडिकल बुलेटिन तक उनकी हेल्थ रिपोर्ट के बारे में सभी को इंतजार करना होगा।

यह भी पढें - योगी आदित्यनाथ को याद आया अपना पहाड़, पिता से मुलाकात कर आंखें भर आई !
यह भी पढें - उत्तराखंड में चाय की दुकान चलाती हैं योगी आदित्यनाथ की बहन, भाई के लिए भावुक संदेश
बताया जा रहा है कि योगी आदित्यनाथ तक इस खबर को पहुंचाया गया है और वो लगातार अपने परिवार के संपर्क में हैं। 85 वर्षीय आनन्द सिंह बिष्ट की हालत बिगड़ने पर सोमवार को करीब पौने पांच बजे के आसपास हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट के इमरजेंसी में लाया गया। इमरजेंसी में फर्स्ट एड के बाद उन्हें अस्पताल के विशेष कक्ष में रखा गया है। उनके साथ उनकी पत्नी सावित्री देवी भी आई है। अस्पताल की टीम बेहद गंभीरता से उनके उपचार में जुटी हुई है। लोग कुशलक्षेम जानने के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं। योगी का जन्म 5 जून 1972 को पौड़ी गढ़वाल जिले एक छोटे से गांव पंचूर में हुआ था। इस बीच आपको बता दें कि डिहाइड्रेशन कैसे होता है और कैसे ये स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स बताते हैं कि जब किसी को डिहाइड्रेशन की परेशानी हो जाती है, तो उस वक्त शरीर में तरल पदार्थ पर्याप्त मात्रा में नहीं होते।

यह भी पढें - गढ़वाल राइफल के वीर सूबेदार, योगी आदित्यनाथ के छोटे भाई, बॉर्डर पर तैनात
यह भी पढें - उत्तराखंड में ऐसे रुकेगा पलायन, योगी आदित्यनाथ के पिता ने दिया ट्रिपल ‘S’ फॉर्मूला
पानी की कमी की वजह से शरीर में शुगर और सॉल्ट संतुलन को बिगाड़ सकती है। डॉक्टर्स ये भी कहते हैं कि अगर डिहाइड्रेशन का वक्त पर इलाज नहीं किया गया तो तो ये मस्तिष्क को भी क्षति पहुंचाता है। सिर में दर्द होना और चक्कर आना भी डिहाइड्रेशन के संकेत होते हैं। दिमाग में पानी की कमी की वजह से याददाश्त की शक्ति पर बुरा असर पड़ता है। डिहाइड्रेशन की वजह से आप चीजों पर फोकस नहीं कर पाते हैं। आपके अंदर वो उर्जा नहीं होती जो किसी समस्या या मुद्दे पर सोच विचार करने में मदद करती है, जिससे आप चीजों को भूलने लगते हैं।योगी आदित्यनाथ के पिता का नाम आनंद सिंह है जो गांव में रहते हैं। योगी के पिता के मुताबिक उनमें बचपन से सेवा भावना थी। आपको बता दें कि साल 1993 में योगी गोरखपुर चले गए थे। सिर्फ 21 साल की उम्र में ही उन्होंने घर छोड़ दिया था।


Uttarakhand News: Yogi adityanath father hospitalised in dehradun

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें