Video: उत्तराखंड का सपूत विदेश में बना सुपरमैन, दुनियाभर के 543 लोगों की जान बचाई

Video: उत्तराखंड का सपूत विदेश में बना सुपरमैन, दुनियाभर के 543 लोगों की जान बचाई

Roshan raturi save a life in dubai ‘ - उत्तराखंड न्यूज, रोशन रतूड़ी ,उत्तराखंड,

रोशन रतूड़ी...आज ये नाम परिचय का मोहताज नहीं रह गया है। हर दिन वो काम कर रहे हैं और विदेश में फंसे लोगों के लिए सुपरमैन बन रहे हैं। हाल ही रोशन रतूड़ी ने 543 वीं जिंदगी को नर्क से आजाद कराया। दुनियाभर में आज अगर कोई मानवता का संदेश फैला रहा है, तो वो नाम रोशन रतूड़ी ही है। अब रोशन रतूड़ी ने 543वें शख्स को नई जिंदगी दी है, जो दुबई में कठिन परिस्थितियों के बीच अपना जीवन बिता रहा था। नेपाल के रहने वाले दीपक राज भट्ट की आंखों में आंसू और अपने वतन वापस जाने की आस नया उफान भर रही थी। काफी वक्त से विदेश में अपने मालिक के चंगुल में फंसे इस शख्स की परेशानी को रोशन रतूड़ी ने जाना, तो उनका दिल पसीज गया। बस फिर क्या था। वो अपने नए मिशन पर चल पड़े। नेपाल के दीपक राज भट्ट की जान बचाई और और उन्हें वतन वापस भेज दिया।

यह भी पढें - Video: पहाड़ का सपूत, विदेश में बना सुपरहीरो, दुनिया के सामने पेश की मानवता की मिसाल
यह भी पढें - Video: उत्तराखंड के युवा विदेश में फंसे, दो दिन बाद शादी थी...तभी देवदूत बना पहाड़ी सपूत
इसके साथ ही रोशन रतूड़ी ने एक वीडियो अपने फेसबुक पेज पर अपलोड किया है और लिखा है कि ‘’हो गये 543...एक और ज़िन्दगी जो नेपाल के रहने वाले हैं। आज रात की फ़्लाइट से उनको उनके वतन नेपाल भेज रहा हूँ। उनका क़ानूनी पेपर वर्क पुरा हो चुका है । वो अपने परिवार से मिलने जा रहे हैं और आज वो बहुत बहुत खुश है ।कम्पनी की ग़लती की वजह से दो साल से विदेशी धरती में फँसे थे। ये सब आप सबके आशीर्वाद से ही सम्भव हुआ है।’’ इतना बड़ा काम करने के बाद भी रोशन इसे लोगों का आशीर्वाद कहते हैं। पिछले दो सालों से दीपक राज भट्ट बहुत मुसीबतों में विदेशी धरती में फंसे थे । इस काम को करने में कुछ मुश्किलें तो सामने आई लेकिन रोशन रतूड़ी ने हिम्मत नही हारी और नतीजा ये है कि आज दीपक बहुत खुश है ।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड का सपूत दुबई में बना सुपरहीरो, एक बार फिर किया हिम्मतवाला काम
यह भी पढें - Video: एक उत्तराखंडी ने विदेश में पेश की मानवता और भाईचारे की मिसाल, अब किया बड़ा काम !
दीपक राज जी ने कभी सोचा भी नही था कि वो अपने परिवार से मिल पायेंगे । रोशन रतूड़ी कहते हैं कि जाति धर्म और मज़हब मत देखो । इंसानियत को देखो। क्योंकि इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं है। आप भी ये वीडियो जरूर देखिए।


Uttarakhand News: Roshan raturi save a life in dubai ‘

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें