उत्तराखण्ड की राज्यसभा सीट पर कांग्रेस ने बीजेपी को दिया वाकओवर, निर्विरोध होगा चुनाव

उत्तराखण्ड की राज्यसभा सीट पर कांग्रेस ने बीजेपी को दिया वाकओवर, निर्विरोध होगा चुनाव

Congress gives walkover to BJP - राज्यसभा चुनाव, बीजेपी, कांग्रेस, उत्तराखण्ड न्यूज़,उत्तराखंड,

2 अप्रैल को उत्तराखण्ड से राज्यसभा की सीट खाली हो रही है। प्रदेश से राज्यसभा की दो अप्रैल को रिक्त हो रही सीट के चुनाव में निर्विरोध निर्वाचन होना निश्चित हो गया है। कांग्रेस ने इस चुनाव में भाजपा को वाकओवर देने का निर्णय कमोबश ले लिया है। दरअसल रिक्त हो रही सीट के चुनाव की प्रक्रिया शुरू होने के बाद दूसरे दिन भी कोई प्रत्याशी नामांकन पत्र लेने नहीं पहुंचा। वहीं, राज्य में जैसे सियासी समीकरण हैं, उसे देखते हुए इस सीट पर निर्विरोध निर्वाचन तय है। कम संख्या बल के मद्देनजर कांग्रेस राज्यसभा सीट के इस चुनाव में भाजपा को वाकओवर देने के मूड में लग रही है। यह भी माना जा रहा कि उत्तराखण्ड में प्रचंड बहुमत से सत्तासीन भाजपा अंतिम क्षणों में इस सीट के लिए प्रत्याशी के नाम को सार्वजनिक करेगी। ऐसे में प्रत्याशी जो भी होगा, उसकी निर्विरोध जीत तय मानी जा रही है।

यह भी पढें - उत्तराखंड में बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा योग संस्थान, रोजगार के लिए बाबा रामदेव का बड़ा कदम
यह भी पढें - ये 10 पहाड़ी युवा हैं फ़िल्म और टेलीविज़न की दुनिया के लेटेस्ट राइजिंग स्टार्स
राज्यसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया भी प्रारंभ हुई। रिटर्निंग अफसर मदन सिंह कुंजवाल के मुताबिक पहले दिन की भांति दूसरे दिन यानी मंगलवार को भी कोई प्रत्याशी विधानसभा भवन स्थित निर्वाचन कक्ष में नामांकन पत्र लेने नहीं पहुंचा। नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि 12 मार्च तय है। 13 मार्च को जांच होने के बाद 15 मार्च तक नाम वापस लिए जा सकते हैं। राज्यसभा सीट पर बीजेपी के हित में बने सियासी समीकरणों को देखते हुए प्रत्याशी का निर्वाचन निर्विरोध होना तय माना जा रहा है। दरअसल, राज्य विधानसभा में दो निर्दलीय विधायक हैं वहीँ कांग्रेस के 11 विधायक हैं। उत्तराखण्ड में रूलिंग पार्टी बीजेपी का मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस है और कांग्रेस अभी कोई भी रिस्क लेने के मूड में नहीं दिख रही है।

यह भी पढें - Video: ये है उत्तराखंडियों की ताकत, दिल्ली में पहाड़ी महिला से गुंडागर्दी करने वाले दो गुंडे अरेस्ट
यह भी पढें - उत्तराखंड में तीन जगहों से शुरू होगी सी-प्लेन सर्विस, टिहरी बांध के लिए कुछ खास है
इसी वजह से यदि दो निर्दलीयों का समर्थन नहीं मिला और कांग्रेस अपना कोई विधायक भी इधर-उधर हो गया तो पार्टी की किरकिरी हो सकती है। वस्तुतः इसी स्थिति का आंकलन कर कांग्रेस पहले ही यह साफ भी कर चुकी है कि वह अपना प्रत्याशी नहीं उतारेगी। भाजपा की बात करें तो उसके पास विधायकों की संख्या वर्तमान में 56 है, जबकि एक विधायक का निधन होने के कारण यह सीट खाली है। वर्तमान में भाजपा के पास प्रचंड बहुमत दिख रहा है और इस कारण बीजेपी की जीत तय मानी जा रही है। वर्तमान परिदृश्य से तो यही लग रहा है कि विपक्ष का कोई प्रत्याशी न उतरने पर इस सीट पर मतदान की नौबत नहीं आएगी और बीजेपी की सीट बीजेपी के ही पास रहने की पूरी संभावना लग रही है।


Uttarakhand News: Congress gives walkover to BJP

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें