उत्तराखंड में महिला शिक्षक बनी शैतान, 9 साल के छात्र की आंख पेन से फोड़ दी, परिवार को दी गालियां!

उत्तराखंड में महिला शिक्षक बनी शैतान, 9 साल के छात्र की आंख पेन से फोड़ दी, परिवार को दी गालियां!

teachers torture on student in kashipur - उत्तराखंड न्यूज, काशीपुर ,उत्तराखंड,

उस मासूम की गलती क्या थी, अब तक किसी को कुछ नहीं पता लेकिन इसके बाद भी वो अपनी एक आंख गंवा चुका है। उसके आँखों की रोशनी चली गई है। बिना गलती के बिना वजह इसकी आंख पर टीचर ने पेन से इतनी जोर से वार किया कि उसकी आंख ही चली गई। गुरु भगवान का रूप होता है, लेकिन ऐसे गुरु से तो देवता ही किसी को बचा सकते हैं। आखिर उस बच्चे का गुनाह क्या था कि शिक्षक ने उसकी पेन से आंख फोड़ दी ? जब मासूम बच्चे की हालत परिवार वालों ने देखी तो सब हैरान रह गए। इसकी शिकायत लेकर जब माता-पिता स्कूल प्रबंधन के पास पहुंचे तो बताया जा रहा है कि उन्हें गालियां दी गईं। उस परिवार पर अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया, जो अपने बच्चे के लिए इंसाफ मांग रहा है। ये पूरी घटना उत्तराखंड के काशीपुर की है। बताया जा रहा है कि इस स्कूल के प्रबंधक पूर्व विधायक राजीव अग्रवाल हैं।

यह भी पढें - देवभूमि में मासूम बच्ची का अपहरण, कबाड़ी के बाथरूम में मिली, आरोपी दूसरे समुदाय का !
यह भी पढें - देवभूमि में महापाप ! बेटों ने अपनी विधवा मां को पीट-पीटकर मार डाला...फिर आग लगा दी !
एक व्यक्ति ने राजीव अग्रवाल समेत तीन लोगों के खिलाफ कटोराताल पुलिस चौकी में केस दर्ज कराया है। परिवार वालों का आरोप है कि स्कूल की शिक्षिका ने पेन से उनके बेटे की आंख फोड़ दी। इस वजह से इस मासूम छात्र की एक आंख की रोशनी चली गई है ।हैरानी तो तब होती है जब स्कूल प्रबंधन ने मदद करने बजाय पीड़ित परिवार को अपशब्द कहने शुरू कर दिए। बताया जा रहा है कि पीड़ित परिवार को जान से मारने की भी धमकी दी गई। इसके बाद जब मीडिया पूर्व विधायक राजीव अग्रवाल के पास पहुंची तो उन्होंने सारे आरोपों को निराधार बताया। इसके अलावा भी कुछ और बातें हैं। चंद्रशेखर नाम के शख्स ने पुलिस को तहरीर दी है। इस तहरीर में बताया गया है कि वो मोहल्ला काजीबाग में सपरिवार रहते हैं। उनके पुत्र का नाम भविष्य है। भविष्य की उम्र 9 साल की है और वो लाहौरियान मोहल्ला के एक स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ रहा था।

यह भी पढें - उत्तराखंड को एक योग गुरू ने शर्मसार कर दिया, जापान से आई महिला के साथ छेड़खानी
यह भी पढें - Video: माफ करना भव्या बेटी ! उत्तराखंड ऐसा नहीं था लेकिन अब हो गया है
आरोप है कि 23 फरवरी को स्कूल में शिक्षिका ने उस बच्चे की बाईं आंख में पेन मार दिया। पेन का वार इतना तेज और जोर का था कि बच्चे की आंख फूट गई। इसके साथ ही उसकी आंख की रोशनी भी चली गई। स्कूल ने अब तक इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं दी है। 24 फरवरी को चंद्रशेखर की पत्नी सरिता ने स्कूल जाकर पूछताछ की तो प्रिंसिपल और महिला शिक्षक ने अपनी गलती भी मानी। बच्चे का इलाज कराने का आश्वासन दिया गया। बताया जा रहा है कि इसके बाद बच्चे के माता-पिता ने नेत्र रोग विशेषज्ञ से भविष्य की आंख का ऑपरेशन कराया। इसका कुल खर्च 28 हजार रुपये आया। इसके बाद जब इलाज का खर्च परिवार से मांग गया तो प्रिंसिपल मुकर गईं। आरोप है कि वहां मौजूद प्रबंधक पूर्व विधायक राजीव अग्रवाल और प्रिंसिपल ने उनके साथ अभद्रता की। ये हैं कलयुग के भगवान कहे जाने वाले शिक्षक ?


Uttarakhand News: teachers torture on student in kashipur

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें