पहाड़ का परमजीत बिष्ट, नेशनल गेम्स में जमाई धाक, स्वर्ण पदक पर किया कब्जा

पहाड़ का परमजीत बिष्ट, नेशनल गेम्स में जमाई धाक, स्वर्ण पदक पर किया कब्जा

Parmjeet bisht of uttarakhand won gold in khelo india  - उत्तराखंड न्यूज, परमजीत बिष्ट ,उत्तराखंड,

परमजीत आखिर परमजीत ही होते हैं, वो जीतने के लिए बनते हैं, उनका निशाना जीत पर होता है, पहाड़ के इस परमजीत ने कमाल कर दिया। पहले तो पहाड़ की मानसी नेगी और उसके बाद परमजीत बिष्ट ने हर उत्तराखंडी को खुशी मनाने का एक और मौका दे दिया है। खेलो इंडिया नेशनल गेम्स में पहाड़ के परमजीत बिष्ट ने 5 किलोमीटर वॉक रेस में उत्तराखंड के परमजीत सिंह बिष्ट ने 21:19:84 मिनट में रेस पूरी की और स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। इसके साथ ही उत्तराखंड के ही मुकेश कुमार भी इसी दौड़ में शआमिल हुए थे। उन्होंने 21:26:71 मिनट में दौड़ पूरी कर दूसरा स्थान हासिल कर रजत पदक अपने नाम किया। परमजीत बिष्ट मूल रूप से चमोली जिले के हैं। इससे पहले भी चमोली का ये लाल कमाल कर चुका है।

यह भी पढें - उत्तराखंड का लाल बना वर्ल्ड कप में जीत का हीरो, पहली बार में बना डाले ये बेमिसाल रिकॉर्ड
यह भी पढें - Video: पहाड़ की गोल्डन गर्ल, गांव की बेटी गोल्ड ले आई, देखिए वो ऐतिहासिक पल
फरवरी 2017 में गुजरात में हुई 62वीं एसजीएफआई नेशनल एथलेटिक्स में परमजीत ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया था।इसके अलावा भओपाल में हुई 63वीं एसजीएफआई नेशनल एथलेटिक्स चैंपियनशिप में उन्होंने 5 किमी वॉक रेस में रजत पदक जीता था। परमजीत बिष्ट राजकीय इंटर कॉलेज बैरांगना में कक्षा 11वीं के छात्र हैं। परमजीत परमजीत सिंह बिष्ट ने ढाई साल पहले एथलेटिक्स का ककहरा सीखना शुरू किया था। सिर्फ ढाई साल में ही इस लड़के ने इतिहास रच दिया है। ट्रेनिंग के लिए वो गोपेश्वर के मैदान में आते थे। उनके कोच गोपाल सिंह बिष्ट का कहना है कि गोपेश्वर का मैदान काफी उबड़-खाबड़ है। यहां पर सुविधाओं की कमी है। इसके बावजूद परमजीत ने ना सिर्फ अपना खेल सुधारा, बल्कि गोल्ड जीतकर प्रदेश का नाम रोशन किया है।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड के कमलेश, कभी फीस के लिए पैसे नहीं थे, द्रविड़ ने बनाया वर्ल्ड कप का हीरो
यह भी पढें - उत्तराखंड के लाल ने रचा इतिहास, राष्ट्रीय स्तर पर जीते दो गोल्ड मेडल, देशभर से बधाई
पहाड़ों में भी खेल सुविधाओं में सुधार हो तो जाहिर सी बात है कि और भी हीरे तराशे जा सकेंगे। इसके अलावा बालक वर्ग की 5 किमी. वॉक रेस में रजत पदक जीतने वाले मुकेश कुमार ऊधमसिंह नगर के रहने वाले हैं। वो एसजीएफआई नेशनल एथलेटिक्स में कांस्य पदक जीत चुके हैं। मुकेश कुमार ने महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज में कोच अनूप बिष्ट से प्रशिक्षण लेना शुरू किया। अनूप बिष्ट का कहना है कि मुकेश की टाइमिंग में सुधार हुआ है।उत्तराखंड के बच्चे लगातार आगे बढ रहे हैं। उनके खेल को देखकर दुनिया हैरान हो रही है। परमजीत, मानसी, मुकेश कुमार और अनु कुमार ने इस बार गजब ही कर दिया है। अनु कुमार तो अकेले ही दो गोल्ड मेडल जीतकर लाए हैं। आप भी इन खिलाड़ियों को जमकर बधाई दें।


Uttarakhand News: Parmjeet bisht of uttarakhand won gold in khelo india

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें