विडियो: खेल मंत्री का "रेप" पर बड़ा बयान, खेल संघ अधिकारियों में दहशत !

विडियो: खेल मंत्री का "रेप" पर बड़ा बयान, खेल संघ अधिकारियों में दहशत !

Sports Ministers big statement on sports associations  - Arvind Pandey, Sports Uttarakhand,उत्तराखंड,

उत्तराखण्ड के शिक्षा एवं खेल मंत्री अरविंद पांडे जो अपनी खफा होने की अदाओं के लिए पूरे प्रदेश में विख्यात हैं, इस बार जनाब राज्य के खेल संघों से बहुत ज्यादा नाराज हैं। इतने नाराज कि उन्होंने राज्य में मौजूद कई खेल संघ के पदाधिकारियों पर गुंडागर्दी करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि वे सूबे की बच्चियों के खेल में भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। शिक्षा एवं खेल मंत्री यहीं नहीं रुके, वरन मंत्री जी का दावा है कि उनके पास ऐसे सबूत हैं जिनके आधार पर खेल संघ के उन पदाधिकारियों के खिलाफ "रेप" का केस बनता है और धारा 376 के तहत मुकदमा भी दर्ज हो सकता है। कुछ समय पूर्व अपनी प्लस-माइनस थ्योरी से सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए मंत्री जी के तेवरों से तो यही लगता है कि अबकी बार मंत्री जी के हाथ कुछ ख़ास लगा है।

यह भी पढें - Video: देवभूमि का युवा, जिसने गांव से पलायन रोका, शाहरुख खान ने किया सम्मान
यह भी पढें - जय उत्तराखंड: ग्लोबल टीचर अवॉर्ड के लिए भारत से सिर्फ एक नाम, प्रदीप नेगी
शिक्षा एवं खेल मंत्री अरविंद पांडे ने दावा किया कि उत्तराखण्ड की बच्चियों के भविष्य से खिलवाड़ करने वाले कई पदाधिकारियों के खिलाफ उनके पास ऐसे अहम सबूत हैं, जिनको वो समय आने पर किसी को भी प्रस्तुत कर सकते हैं। अरविंद पांडे का कहना है कि अगर प्रदेश के ये खेल संघ अपनी इन हरकतों से बाज नहीं आए तो वे उनके खिलाफ किसी भी स्तर तक जा सकते हैं। यहाँ सबसे बड़ा प्रश्न यह है कि मंत्री जी की भावुक धमकी में वाकई अगर दम है तो फिर महोदय खेल संघों में मौजूद दुराचारियों को बेनकाब करने में क्यों हिचक रहे हैं ? आखिर अरविंद पांडे जी ऐसे अधिकारियों के खिलाफ सख्त कदम उठाने से क्यूँ कतरा रहे हैं ? जीरो टॉलरेंस सरकार के दौर में भी माननीय के हाथ कौन रोक रहा है ?

यह भी पढें - Video: पहाड़ के बच्चों भविष्य बर्बाद नहीं होगा, देवभूमि के सिंघम ने छेड़ी मुहिम, देखिए वीडियो
यह भी पढें - उत्तराखंड बोर्ड: 10वीं और 12वीं का परीक्षा कार्यक्रम जारी, 4 मार्च से एग्जाम, 5 मई को रिजल्ट
सवाल ये भी है कि क्या वाकई में मंत्री जी मुकदमा दर्ज कराएंगे ? उत्तराखण्ड के शिक्षा एवं खेल मंत्री से केवल सुर्खियां बटोरने के लिए खबर उछालने की उम्मीद तो नहीं है। उत्तराखण्ड के शिक्षा एवं खेल मंत्री का दावा काफी गंभीर है कि उनके पास ऐसे सबूत हैं जिनके आधार पर खेल संघ के उन पदाधिकारियों के खिलाफ "रेप" का केस बनता है और धारा 376 के तहत मुकदमा भी दर्ज हो सकता है। न्यायोचित यही होगा मंत्री जी विडियो में कही बात को सत्य साबित करते हुए ऐसे अधिकारियों के खिलाफ कड़ा कदम उठायें और दोषियों को ठिकाने तक पहुंचायें।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Sports Ministers big statement on sports associations

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें