uttarakhand investers summit dehradun 2018 latest news

उत्तराखंड में आजादी के बाद पहली बार, इस गांव के लोगों को नसीब हुई बिजली

उत्तराखंड में आजादी के बाद पहली बार, इस गांव के लोगों को नसीब हुई बिजली

Electricity reached in balig village after independence - उत्तराखंड न्यूज, त्रिवेंद्र सिंह रावत, आजादी ,

कहते हैं कि अगर सच में दिल में कुछ करने की इच्छा हो, तो हर काम आसान हो जाता है। किसी काम को करने के लिए जबरदस्त इच्छाशक्ति का होना सबसे ज्यादा जरूरी है। लग रहा है कि उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत इसी इच्छाशक्ति के साथ काम कर रहे हैं। सीएम त्रिवेंद्र ने कुछ वक्त पहले कहा था कि अब उत्तराखंड में ‘चलता है’ शब्द नहीं चलेगा। शायद ये ही वो वजह है कि अधिकारी भी अब फुर्ती दिखाने लगे हैं। इसका सबूत ये है कि उत्तराखंड के उस गांव में भी बिजली पहुंच गई, जहां की चिंता आजादी के बाद से हुक्मरानों को बिंल्कुल भी नहीं थी। जी हां हम बात कर रहे हैं कि पिथौरागढ़ जिले में धारचूला ब्लॉक के बालिग गांव की। इस गांव के लोगों ने आज तक बिजली नहीं देखी थी। बल्ब की रोशनी क्या होती है, उन्हें आज तक ये पता ही नहीं था।

यह भी पढें - Video: देवभूमि में पहली बार, अब सीधे CM त्रिवेंद्र से करें बात, ये मोबाइल ऐप शानदार है
यह भी पढें - उत्तराखंड सरकार का बड़ा तोहफा, देवभूमि में बेटियों का भविष्य संवारेगी 'नंदा-गौरा'
आजादी के 70 साल बाद पहली बार इस गांव में बिजली पहुंची है। ग्रामीणों में अपने गांव में पहली बार बिजली से रोशन बल्ब देखें हैं। ये गांव राज्य के सबसे दूरस्थ गांवों में से है। खास बात ये है कि ये गांव चीन सीमा के काफी करीब है। यहां तक उपकरण पहुंचाना भी बेहद मुश्किल काम था लेकिन सरकार ने ये भी किया। यहां आपको एक और खास बात ये भी बता दें कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने राज्य में विद्युतीकरण से वंचित गावों में तेजी से विद्युतीकरण करने के निर्देश दिए थे। केंद्र सरकार भी इसको लेकर खासी गंभीरता से काम कर रही है। इसी का नतीजा है कि राज्य के कई गावों में अब बिजली से जगमग बल्ब दिखने लगे हैं। फिलहाल गांव के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को धन्यवाद दे रहें हैं। इतना जरूर है कि ये एक शानदार काम है।

यह भी पढें - बर्फबारी के बीच केदारनाथ पहुंचे सीएम त्रिवेंद्र, 2018 में दिखेगा भव्य रूप
यह भी पढें - शहीदों के गांव पहुंचे सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, शहीद मेले का शुभारंभ, कई बड़े ऐलान
इसके अलावा उत्तराखंड सरकार की तरफ से एक और शानदार खबर मिल रही है। बताया जा रहा है कि बाल विकास विभाग द्वारा उत्तराखंड की बेटियों का भविष्य संवारने के लिए बड़ा कदम उठाया जा रहा है। विभाग द्वारा नंदा-गौरा योजना की शुरूआत होने जा रही है। उत्तराखंड के लाखों गरीब परिवारों के लिए ये एक बेहतरीन खबर साबित हो सकती है। इस योजना के तहत बीपीएल वर्ग के परिवारों में जन्मी बेटी के जन्म से लेकर पढ़ाई और शादी तक में सरकार द्वारा आर्थिक मदद दी जाएगी। बताया जा रहा है कि बाल विकास विभाग द्वारा इस योजना को एक महीने के भीतर ही शुरू किया जाएगा। जी हां नंदा-गौरा योजना के लिए आवेदन एक महीने के भीतर ही शुरू करने की तैयारी है। खैर दिख रहा है कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत लगातार काम कर रहे हैं।


Uttarakhand News: Electricity reached in balig village after independence

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें