uttarakhand investers summit dehradun 2018 latest news

उत्तराखंड के 5 जिलों के लिए NDRF की चेतावनी, अगले 24 घंटे जरा संभलकर रहें

उत्तराखंड के 5 जिलों के लिए NDRF की चेतावनी, अगले 24 घंटे जरा संभलकर रहें

Avalanche warning for uttarakhand five district  - उत्तराखंड न्यूज, हिमस्खलन ,

बारिश हो, तो उत्तराखंड पर आफत बरसनी शुरू होती है। बर्फबारी हो तो उत्तराखंड के लिए मुश्किलें और भी बढ़ जाती हैं। इस बीच राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण यानी NDRF ने उत्तराखंड के 5 जिलों के लिए हिमस्खलन का अलर्ट जारी किया है। NDRF के मुताबिक अगले 24 घंटे में उत्तराखंड के पांच पर्वतीय जिलों में हिमस्खलन का खतरा है। खास तौर पर जो जगहें 2500 मीटर से ज्यादा ऊंचाई वाली हैं, वहां परेशानी और भी ज्यादा बढ़ सकती है। सबसे ज्यादा चेतावनी चमोली जिले के लिए दी गई है। NDRF ने अपने अलर्ट में हिमस्खलन चमोली जिले को बेहद संवेदनशील बताया है। कहा गया है कि यहां हिमस्खलन की गति बाकी चार जिले के मुकाबले ज्यादा रह सकती है। अब हम आपको बाकी चार जिलों के लिए बारे में भी बता रहे हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड के लिए बड़ी खबर, गोमुख में भूस्खलन, भागीरथी का रुख बदला
यह भी पढें - Photos: उत्तराखंड का मिनी स्विट्जरलैंड चोपता, बर्फबारी के बाद और भी खूबसूरत...देखिए
इस चेतावनी को देखते हुए मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने एडवाइजरी जारी की है। इसके साथ ही इन जिलों के जिलाधिकारियों को जरूरी एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण यानी NDRF ने चेतावनी जारी करते हुए बताया कि उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़ और टिहरी गढ़वाल में भी हिमस्खालन होगा। इस हिमस्खलन को डेंजर लेवल 1 में रखा गया है। लेकिन खास बात ये है कि चमोली जिले के 2500 मीटर से ज्यादा ऊंचाई वाले इलाकों को डेंजर लेवल 3 में रखा गया है। इस इलाके में लोगों को आवागमन ना करने की हिदायत दी गई है। आपको बता दें कि राज्य के पर्वतीय इलाकों में जमकर हिमपात हो रहा है। लेकिन अब NDRF ने हिमस्खलन की चेतावनी दी है, जो कि 5 जिलों के लिए जारी की गई है।

यह भी पढें - गढ़वाल के गरीब परिवारों पर चूना लगाकर चले गए बॉलीवुड वाले, उन्हें शर्म तक नहीं आई
यह भी पढें - उत्तराखंड में बड़े भूस्खलन की खबर, प्रशासन में हड़कंप, इन जिलों में अलर्ट
मौसम विभाग ने भी प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में कोहरा और पर्वतीय क्षेत्रों में पाला पड़ने की चेतावनी जारी की है। विभाग के मुताबिक, बारिश से फिलहाल राहत रहेगी, लेकिन कोहरा और पाले के चलते पारे में गिरावट आनी तय है। पर्वतीय क्षेत्रों में 14, 15 और16 दिसंबर सुबह भारी पाला पड़ने की चेतावनी जारी की गई है। लोगों को सलाह दी गई है कि सर्दी से खुद को बचाकर रखें, क्योंकि पाला और कोहरा से ठंड में इजाफा होगा। दून में आज मौसम साफ रहेगा, लेकिन सुबह-शाम ठंडी हवा की वजह से मौसम सर्द होगा। लेवल-3 के अलर्ट में खतरे की आशंका रहती है। लिहाजा चमोली जिले में हिमस्खलन प्रभावित और खासकर बर्फीली ढलान वाली जगहों पर किसी भी गतिविधि से बचने की सलाह दी गई है।


Uttarakhand News: Avalanche warning for uttarakhand five district

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें