Video: उत्तराखंड की ग्रेही पांडे, 10 साल की इस बच्ची ने दुनिया को हैरान कर दिया

Video: उत्तराखंड की ग्रेही पांडे, 10 साल की इस बच्ची ने दुनिया को हैरान कर दिया

10 year girl with extreme iq level - उत्तराखंड न्यूज, ग्रेही पांडे  ,उत्तराखंड,

कहते हैं कि अगर आपमें प्रतिभा कूट-कूटकर भरी है, तो आपको कामयाबी के फलक पर जाने से कोई नहीं रोक सकता। खास तौर पर आज के दौर में उत्तराखंड की प्रतिभाओं की हर जगह पूछ हो रही है। इस बात को सच कर दिखाने का काम 10 साल की नन्हीं ग्रेही ने कर दिखाया है। हैरानी की बात तो ये है कि ग्रेही अभी सिर्फ चौथी कक्षा में पढ़ती है। लेकिन ये बच्ची 10वीं क्लास के हर सवाल का जवाब मिनटों में दे देती है। ग्रेही का कहना है कि वो बड़े होकर अंतरिक्ष वैज्ञानिक बनना चाहती हैं। 10 साल की उम्र वो उम्र होती है, जिस दौरान बच्चों को खेल और खिलौनों से ही फुर्सत नहीं मिल पाती। लेकिन इस उम्र में ग्रेही दसवीं कक्षा के मैथमेटिक्स के सवाल आसानी से हल करती है। हैरानी की बात तो ये है कि ग्रेही क्वांटम मैकेनिक्स भी पढ़ती है। ग्रेही के बारे में और भी खास बातें हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड की बेटी से कुछ सीखिए, फैशन डिजायनिंग छोड़ी, गांव लौटी और ऐसे रचा इतिहास
यह भी पढें - पहाड़ के गरीब घर की बेटी, एवरेस्ट फतह को तैयार, अमेरिका में भी दिखाएगी दम-खम
ग्रेही बताती हैं कि जब भी उन्हें पढ़ाई के दौरान कोई परेशानी आती है तो वो मेडिटेशन के जरिए उस सवाल का जवाब ढूंढ लेती हैं। आपको जानकर हैरानी ये भी होगी कि ग्रेही ने चौथी कक्षा के बाद स्कूल जाना ही छोड़ दिया। ऐसा इसलिए क्योंकि वो सेल्फ स्टडी कर रही हैं और सीबीएसई बोर्ड 10वीं कक्षा की परीक्षा की तैयारी कर रही है। ग्रेही कहती हैं कि जो स्कूल में पढ़ाया जाता है, उसने वो सब पहले ही पढ़ लिया है। खास बात ये है कि ग्रेही के छोटे भाई को भी इस मामले में महारत हासिल है। ग्रेही के छोटे भाई का नाम गार्थ है। गार्थ दूसरी क्लास में पढ़ता है। दूसरी क्लास में रहकर गार्थ छठी कक्षा के मैथमैटिक्स के सवाल आसानी से हल करता है। आपको जानकर खुशी होगी कि गार्थ इस छोटी सी उम्र में दो गीत भी कंपोज कर चुका है। गार्थ और ग्रेही की एक और खास बात ये है कि ये दोनों कभी टीवी नहीं देखते।

यह भी पढें - उत्तराखंड का पहला पहाड़ी लड़का, जिसने गूगल में पकड़ी गलती, दुनिया ने किया सलाम
यह भी पढें - गुप्तकाशी की ममता पुजारी बनीं उत्तराखण्ड की पहली कमर्शियल महिला ड्राइवर, ज़ज्बे को प्रणाम !
इन दोनों को आउटडोर गेम्स ज्यादा पसंद हैं। ये दोनों बच्चे रोजाना से मेडिटेशन करते हैं। ग्रेही के पिता का नाम दिवस पांडे है। उनका कहना है कि उन्होंने बच्चों को छोटी सी उम्र में ही ध्यान करवाना शुरू कर दिया था। इसका रिजल्ट अब सबके सामने है। ग्रेही के पिता दिवस पांडे कहते हैं कि ग्रेही 10वीं के पेपर देने की तैयारी कर रही है। अगर CBSE के नियम आड़े नहीं आये तो अगले साल ग्रेही 10वीं की परीक्षा देंगी। ग्रेही की जिंदगी का एक लक्ष्य है। वो अंतरिक्ष वैज्ञानिक बना चाहती हैं। ये वीडियो देखिए

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: 10 year girl with extreme iq level

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें