uttarakhand investers summit dehradun 2018 latest news

उत्तराखंड के राजीव मेहता बने ओलंपिक महासंघ के महासचिव, देशभर से बधाईयां

उत्तराखंड के राजीव मेहता बने ओलंपिक महासंघ के महासचिव, देशभर से बधाईयां

Rajiv mehta become indian olympic association secretary - राजीव मेहता, उत्तराखंड न्यूज ,

उत्तराखंड के लिए के बार फिर से अच्छी खबर है। जी हां एक बार फिर से उत्तराखंड का चेहरा देश में एक बड़े पद पर विराजमान होने जा रहा है। खास बात ये है कि लगातार दूसरी बार ऐसा हो रहा है कि एक राज्य का कोई व्यक्ति एक पद पर लगातार दूसरी पर चयनित हो रहा है। जी हां हम बात कर रहे हैं कि उत्तराखंड मूल के राजीव मेहता की। राजव मेहता वो चेहरा हैं, जो लगातार दूसरी बार भारतीय ओलंपिक संघ के महासचिव बने हैं। खास बात ये है कि उन्हें निर्विरोध इस पद के लिए चुना गया है। राजीव मेहता की इस उपलब्धि पर उत्तराखंड के खेल प्रेमियों मेें भी काफी खुशी है। बार बार देखा भी गया है कि राजीव उत्तराखंड आकर खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते रहते हैं। हाल ही में उत्तराखंड ओलंपिक संघ के महासचिव डॉ डीके सिंह ने मीडिया को इस बारे में जानकारी दी है।

यह भी पढें - Video: पहाड़ों में पहली बार, डीएम मंगेश ने रोजगार के लिए शुरू किया शानदार काम
यह भी पढें - देहरादून में इंटेलिजेंस एजेंसियां अलर्ट मोड पर, संदिग्धों का वैरिफिकेशन शुरू
उनका कहना है कि नई दिल्ली में ओलंपिक संघ की चुनाव प्रक्रिया के लिए नामांकन किए गए। इसमें सभी पदों के लिए नॉमिनेशन भरा गया था। हैरानी की बात तो ये है कि महासचिव पद पर राजीव मेहता के अलावा कोई नामांकन नहीं भरा गया। हालांकि ये चुनाव 14 दिसंबर को होने हैं, लेकिन राजीव मेहता का महासचिव ना तय है। राजीव मेहता के कार्यकाल में एक बात देखने को मिली थी। ओलंपिक खेलों में भारतीय दल का प्रदर्शन पहले की मुकाबले काफी सुधरा है। राजीव मेहता का इससे पहले कहना था कि अब टोक्यो ओलंपिक में भारत और भी बेहतरीन प्रदर्शन करेगा। उनका कहना है कि भारत इस ओलंपिक में दो डिजिट में पदक जरूर जीतेगा। जब राजीव मेहता ने ये बातें कही थी, उस वक्त वो नैनीताल में थे। मोदी सरकार की तारीफ में राजीव मेहता ने कई बातें कही थी।

यह भी पढें - खतरे में उत्तराखंड की शान नैनी झील, वैज्ञानिकों ने दी भूकंप की वॉर्निंग
यह भी पढें - उत्तराखंड में चौपहिया वाहन मालिकों के लिए बड़ी खबर, ये जरूरी काम निपटा लीजिए
उन्होंने कहा था कि आजादी के बाद पहली बाद देश को ऐसी सरकार भी मिली है, जो सच में खेलों और खिलाड़ियों को बढ़ावा दे रही है। इसके साथ ही बताया जा रहा है कि अब 2018 में उत्तराखंड में राष्ट्रीय खेलों का आयोजन हो सकता है। इससे पहले राजीव खुद ये बता चुके हैं कि 2018 में उत्तराखंड में होने वाले राष्ट्रीय खेल के सेलिंग मुकाबले नैनीताल में होंगे। राजीव मेहता ने उस दौरान कहा था कि मोदी सरकार से पहले देश में खेलों के नाम पर कोई सुविधा नहीं थी। उन्होंने कहा था ग्रामीण प्रतिभाओं के लिए ना मैदान हैं और ना ही संसाधन हैं। ऐसे में कहां से अन्तराष्ट्रीय खिलाड़ी तैयार हो सकते हैं। राजीव मेहता ने कहा था कि भारतीय ओलम्पिक संघ हर राज्य में सक्रिय है। सभी राज्यों में संघ की अलग से इकाइयां हैं। खैर इतना जरूर है कि उत्तराखंड का एक और चेहरा विश्व के फलक पर अपनी चमक बिखेरने को तैयार है।


Uttarakhand News: Rajiv mehta become indian olympic association secretary

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें