उत्तराखंड में गजब हो गया, फटे बिस्तर की वजह से रातोंरात लखपति बना भिखारी

उत्तराखंड में गजब हो गया, फटे बिस्तर की वजह से रातोंरात लखपति बना भिखारी

Beggar become millionaire in haridwar - उत्तराखंड न्यूज, हरिद्वार भिखारी ,उत्तराखंड,

किस्मत का धनी एक भिखारी, जो रातों रात लखपति बन गया। इंसान की जिंदगी में लक एक बड़ा रोल अदा करती है। कहा जाता है कि अगर आपका लक आपके साथ है, तो आपकी जिंदगी बदलने में देर नहीं लगती। ऐसा ही कुछ एक भिखारी के साथ हुआ है। हो सकता है कि ये खबर जानकर आपको हैरानी हो, या फिर आपको हंसी आए, लेकिन सच ये ही है। उत्तराखंड के हरिद्वार के रानीपुर कोतवाली क्षेत्र का ये पूरा मामला है। यहां एक ऐसा वाकया सामने आया है कि एक भिखारी रातों रात लखपति बन गया। हालांकि भिखारी तो लखपति बन गया लेकिन एक दूसरे शख्स के सामने मुसीबतों का अंबार लग गया। जानकारी के मुताबिक यहां रहने वाले एक पिता और बेटा काफी दिनों से एक भिखारी को तलाश कर रहे थे, इसके पीछे खास वजह है। दरअसल उस शख्स के बेटे ने भिखारी को एक गद्दा दान में दे दिया था।

बेटे को लगा कि गद्दा फटा-पुराना है, इसलिए भिखारी को दान में दे देना चाहिए। लेकिन उसे ये नहीं पता था कि इस गद्दे के भीतर लाखों की करेंसी मौजूद है। अपने पिता को बिना बताए बेटे ने अपने घर से एक फटा गद्दा लाकर कनखल में मौजूद एक भिखारी को दान में दे दिया। जब पिता को इस बात के बारे में पता चला तो उन्होंने बेटे को बुरी तरह से फटकार लगा दी। पहले बेटे को बड़ा अजीब लगा कि पिता ने उसे डांटा क्यों, लेकि जब बेटे को पता चला कि गद्दे के भीतर लाखों की करेंसी मौजूद थी तो उसके भी पैरों तले जमीन खिसक गई। दरअसल पिता अपनी जिंदगी की सारी कमाई उस गद्दे में छुपाकर रखते थे। बताया जा रहा है कि अब तक इस गद्दे में पिता द्वारा कुल मिलाकर 40 लाख रुपये जमा किए गए थे। इसके बाद पिता और बेटे ने उस भिखारी को ढूंढने की कोशिश की लेकिन भिखारी उस जगह से चला गया था, जहां उसे दान में गद्दा दिया गया था।

भिखारी की काफी पड़ताल की गई और तब जाकर तीन दिन बाद वो भिखारी किसी और मंदिर के बाहर पिता और बेटे को मिला। भिखारी को मिल गया लेकिन यहां भी पिता और बेटे की किस्मत ने फिर पलटी खाई। दरअसल भिखारी ने किसी और को चंद रुपयों में वो गद्दा बेच दिया था। बताया जा रहा है कि उस भिखारी ने वो गद्दा किसी दूसरे भिखारी को ही बेच दिया था। अब पिता और बेटा उस दूसरे भिखारी को तलाश रहे हैं, जिसे पहले वाले भिखारी ने गद्दा बेच दिया था। इस खबर के बारे में कनखल की पुलिस से पता किया गया तो पुलिस ने जवाब दिया कि, उन्हें इस मामले की फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। ऐसे में ये मामला और ज्यादा पेचीदा हो गया है। वैसे एक बात तो ठीक ही कही गई है कि लक्ष्मी भी उसी के पास रुकती है, जो इसका हकदार होता है। एक भिखारी रातों रात अमीर बन गया और एक परिवार रातों रात सड़क पर आ गया।


Uttarakhand News: Beggar become millionaire in haridwar

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें