uttarakhand investers summit dehradun 2018 latest news

'अच्छे दिनों' पर मूडीज़ ने भी लगाई मुहर, अटल सरकार के बाद से पहली बार बढ़ाई भारत की रेटिंग्स

'अच्छे दिनों' पर मूडीज़ ने भी लगाई मुहर, अटल सरकार के बाद से पहली बार बढ़ाई भारत की रेटिंग्स

moody upgrades india rating to Baa2 - अच्छे दिन, मूडीज़ रेटिंग्स, BAA2,

भारतवर्ष की अर्थव्यवस्था के लिए एक बड़ी अच्छी खबर है । तकरीबन तेरह (13) वर्षों के बाद विश्वविख्यात मूडीस इन्वेस्टर्स सर्विस ने भारत को BAA3 ग्रुप से उठकर BAA2 ग्रुप में सूचीबद्ध कर दिया है । मूडीज़ द्वारा भारत की इस रैंकिंग में सुधार करने की वजह भारत के द्वारा किए जा रहे आर्थिक और सांस्थानिक सुधार माने जा रहे हैं । भारत की इस रेटिंग में करीब 13 साल बाद बदलाव हुआ है, इससे पहले 2004 में भारत की रेटिंग BAA3 थी । वैसे भारत की मूडीस रेटिंग सुधरने की शुरुवात वर्ष 2015 में हुई थी जब मूडीस ने भारत की रेंटिंग को स्टेबल से पॉजिटिव की कैटेगिरी में रखा दिया था । माना जा रहा है कि मोदी सरकार के 'अच्छे दिनों' पर मूडीस द्वारा यह लगायी गयी मोहर है । दरअसल फॉरेन इन्वेस्टमेंट के नजरिये से मूडीस रेटिंग्स को पूरी दुनिया में सराहा जाता है तथा इसके ग्लोबल प्रभाव के दृष्टिगत किसी भी देश की अर्थव्यवस्था पर मूडीस रेटिंग का प्रभाव पड़ना सुनिश्चित माना जाता है । बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी मूडीज़ की रेटिंग आने के बाद मोदी सरकार की तारीफ करते हुए ट्वीट किया कि पीएम मोदी की लोकप्रियता और उनकी सरकार के काम के कारण लगातार सुधार हो रहा है । इससे पहले भारत ने ईज़ ऑफ डूइंग की रेटिंग में भी सुधार किया था ।

यह भी पढें - Video: उत्तराखंड में स्पेन की दो लड़कियां, गांव में रही और पहाड़ी संस्कृति को अपनाया
क्या है BAA2 और BAA3 रेटिंग ?

किसी देश की BAA3 रेटिंग का मतलब होता है उस देश का दुसरे देशों के लिए सबसे कम निवेश वाली स्थिति में होना । BAA2 और BAA1 रेटिंग्स होना इससे थोडा ऊपर की यानी कि देश का दुसरे देशों के लिए अन्य के मुकाबले बेहतर निवेश वाली स्थिति में होना होता है । मूडीज ने अपने बयान में कहा है कि रेटिंग में सुधार किसी देश की सरकार द्वारा लिए जा रहे निर्णयों, उनका अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले असर का आंकलन कर उस समय की अर्थव्यवस्था के आधार पर लिया जाता है । मूडीज ने कहा है कि भारत ने पिछले कुछ समय में अर्थव्यवस्था हेतु जिन कदमों को उठाया है उससे भारत में निवेश करने के लिए माहौल बेहतर हुआ है । साथ ही मोदी सरकार के सरकारी कर्ज को भी कम करने की ओर उठाये गए कदमों के वजह से भारत की रेटिंग्स बेहतर हुई हैं । मूडीज ने एक अनुमान लगते हुए कहा है कि मोदी सरकार के द्वारा जो सुधार किए गए हैं, उनका असर लंबे समय के बाद निश्चित रूप से दिखेगा । जीएसटी और नोटबंदी लागू होने के कारण कुछ समय के लिए जीडीपी में गिरावट हुई है, परन्तु मूडीज का अनुमान है कि भारत की जीडीपी ग्रोथ मार्च 2018 तक 6.7 फीसदी होगी... वहीं अनुमान है कि 2019 तक जीडीपी एक बार फिर 7.5 फीसदी तक निश्चित रूप से पहुंचेगी ।

यह भी पढें - उत्तराखंड के लिए केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, पीएम मोदी खुद रखेंगे इस काम पर नजर
मूडीज रिपोर्ट की मानें तो मोदी सरकार ने जिस तरह के कदमों को उठाया है, उससे सरकारी कर्ज के वृद्धि का जोखिम कम हो गया है । रिपोर्ट का कहना है कि सरकार अभी कार्यकाल के बीच में है, यानी सरकार के और भी बढ़े फैसलों की पूरी संभावना है । संभावना है कि सरकार के द्वारा जो फैसले लिए जा रहे हैं उनसे व्यापार, विदेशी निवेश आदि की स्थिति भी बदलेगी । मूडीज ने रिपोर्ट में कहा है कि भारत के द्वारा जिस तरह के आर्थिक सुधार के लिए फैसले लिए गए हैं, उससे दुनिया चौंक गई है । जी.एस.टी. के कारण भारत में अंतर्राज्यीय व्यापार को भी काफी फायदा मिलने के अलावा आधार, डॉयरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर स्कीम जैसे सुधारों से भी नॉन परफॉर्मिंग लोन और बैंकिंग सिस्टम में सुधार हुआ है । समझा जा सकता है कि नरेंद्र मोदी सरकार की देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए लगातार लिए गए कड़े फैसले (जिनका देश में लगातार विरोध होता रहा है) का जहां एक ओर पूरी दुनिया के bond credit rating एजेंसीज ने स्वागत किया है, वहीँ दूसरी ओर कई देशों ने इन फैसलों की तारीफ भी की है । इसी का परिणाम है कि अमेरिका की सबसे मानी-जानी रेटिंग एजेंसी मूडीज़ ने भारत की क्रेडिट रेटिंग को सुधारते हुए BAA3 ग्रुप से उठकर BAA2 ग्रुप में सूचीबद्ध कर दिया है ।


Uttarakhand News: moody upgrades india rating to Baa2

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें