उत्तराखंड के इस जिले में बादल फटने से कोहराम, खतरे में 70 से ज्यादा परिवार !

उत्तराखंड के इस जिले में बादल फटने से कोहराम, खतरे में 70 से ज्यादा परिवार !

Cloud burst in pithoragarh - उत्तराखंड न्यूज, पिथौरागढ़, uttarakhand news, pith,उत्तराखंड,

उत्तराखंड में बारिश लगातार तबाही का सबब बनती जा रही है। लगातार बारिश ने उत्तराखंड के लोगों का जीना मुहाल किया हुआ है। बीते कुछ दिनों से लगातार होती बारिश अब लोगों के लिए काल बनती जा रही है। खास तौर पर बारिश के बाद जब बादल फटता है तो मुश्किलें और भी ज्यादा बढ़ जाती हैं। उधर पिथौरागढ़ में कनार नामक जगह पर बुधवार की रात बादल फट गया। बताया जा रहा है कि रात के करीब पौने दस बजे ये बादल फटा । इस आसमानी कहर में चार रिहायशी मकान बह गए। इसके साथ ही पानी का वेग इतना प्रचंड था कि एक पुल भी बह गया। इस मलबे में ना जाने कितने मवेशी बह गए और मलबे में ही जिंदा दफन हो गए। इसके बाद तो ग्रामीणों में मानो दहशत सी मच गई। हर किसी ने ऊंची जगहों पर जाकर अपनी जान बचाई। हालांकि अभी तक किसी जनहानि की खबर नहीं है।

लेकिन इतना जरूर है कि 40 से ज्यादा परिवारों पर संकट मंडरा रहा है। प्रशासन की तरफ से मदद भेजी गई है और राहत का कार्य चल रहा है। इस भारी आपदा की वजह से जमीन, खेती और मवेशियों के रूप में भारी नुकसान हो गया है। गोसी नदी का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। बताया जा रहा है कि सरस्वती शिशु मंदिर की दीवार ढह गई। उधर मुख्य भवन खतरे में आ गया है। बारिश की वजह से नई बस्ती के 30 परिवार खतरे में आ गए हैं। कुल मिलाकर 70 परिवार ऐसे हैं जो इस वक्त भारी खतरे के बीच जिंदगी काट रहे हैं। प्रशासन ने प्रभावित इलाके में मदद के लिए मुनस्यारी और धारचूला से राहत टीमों को रवाना किया है। बताया जा रहा है कि ये क्षेत्र जिला मुख्यालय से करीब 80 किमी दूर है। बारिश की वजह से संचार संपर्क भी भंग हो गया है। इस वजह से सही हालातों की जानकारी भी नहीं मिल पा रही है।

DM आशीष चौहान का कहना है कि नुकसान की जानकारी नहीं मिल पा रही है। मुनस्यारी और धारचूला से राहत टीम भेज दी गई हैं। इसके साथ ही उनका कहना है कि पीड़ित ग्रामीणों की पूरी मदद की जाएगी। उधर पिथौरागढ़ के धारचूला में चलते वाहन पर पहाड़ से पत्थर आ गिरे। इस वजह से दो यात्री घायल हो गए। भारी बारिश की वजह से प्रशासन ने जिले में 20 अगस्त तक के लिए अलर्ट जारी किया है। नदी तटों पर आवागमन में सावधानी रखने के लिए अलर्ट जारी किया है। उधर मौसम विभाग ने एक बार फिर से प्रदेश में चेतावनी जारी की है। इस चेतावनी के मुताबिक प्रदेश में 6 जिलों में भारी बारिश की संभावना है। पौड़ी, देहरादून, चमोली, हरिद्वार, पिथौरागढ़ और नैनीताल में कहीं-कहीं 65 मिमी से ज्यादा बारिश हो सकती है। इस बीच मौसम विभाग ने सलाह दी है कि पहाड़ में यात्रा के दौरान विशेष एहतियात बरता जाए।


Uttarakhand News: Cloud burst in pithoragarh

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें