NASA का बड़ा अल्टीमेटम, धरती से टकरा सकता है अंतरिक्ष से खगोलीय पिंड !

NASA का बड़ा अल्टीमेटम, धरती से टकरा सकता है अंतरिक्ष से खगोलीय पिंड !

Asteroid to flyby near earth in october  - नासा, एस्टेरॉयड, nasa, Asteroid,उत्तराखंड,

क्या भविष्य में पृथ्वी किसी खगोलीय घटना से बचने के लिए तैयार है ? इस खतरे का जवाब देने के लिए दुनिया कितनी तैयार है, इस बात का जवाब जल्द ही आपको मिल जाएगा। इस वजह से NASA और बाकी अंतरिक्ष एजेंसियां जल्द ही एक प्रयोग करने वाली हैं। ये परीक्षण ब्रह्मांड के अंदर वास्तविक स्थितियों और गतिविधियों पर किया जाना है। इस बीच एक खबर है कि अक्टूबर में एक छोटा ऐस्टरॉयड धरती के पास से गुजरने वाला है। इसके साथ ही नासा अब ये पता लगाने में जुट गई है कि इस तरह की स्थितियों से किस तरह से निपटा जाएगा। बताया जा रहा है कि नासा के वैज्ञानिक इस खगोलीय घटना का करीब से अध्ययन करेंगे। इसके साथ ही ये भी जाच की जाएगी कि खगोलीय पिंडों के टकराने की स्थिति में धरती को बचाने के लिए जो सिस्टम मौजूद हैं, वो कितना कारगर साबित हो सकता है। इसके साथ ही का कहना है कि इस वक्त दुनिया के तमाम मुल्कों को एक साथ मिलकर इसके लिए काम करना चाहिए।

NASA के साथ दुनिया की और कई अंतरिक्ष एजेंसियां इस मौके के लिए तैयारियों में जुटी हैं। बताया जा रहा है कि धरती की ओर बढ़ रहा पत्थर अक्टूबर में पृथ्वी के पास से गुजरेगा। इस पत्थर का नाम 2012 TC4 रखा गया है। ये पत्थर हालांकि काफी छोटा है और इसकी चौड़ाई करीब 10 मीटर है। लेकिन कहा जा रहा है कि ऐसे और भी पत्थर अतंरिक्ष में मौजूद हैं। अगर एक साथ ये टकरा गए तो बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है। तमाम वैज्ञानिक ये पता लगाने में जुटे हैं कि ये पत्थर धरती के कितने पास से गुजरेगा। हालांकि कुछ वैज्ञानिकों का कहना है कि इस पत्थर से फिलहाल धरती को कोई नुकसान नहीं होगा, क्योंकि ये पृथ्वी से करीब 4,200 मील दूर होगा। जैसे-जैसे ये पत्थर धरती के करीब आता जाएगा, वैसे-वैसे वैज्ञानिक इसे ट्रैक करेंगे। इसके अलावा भी इस बारे में कुछ ऐसी बातें हैं,

इसके साथ ही वैज्ञानिक ये भी पता लगाने की कोशिश करेंगे कि ये पत्थर आखिर किस जगह पर गिरेगा। इसके साथ ही कहा जा रहा है कि तमाम वाज्ञानिक ये पता कर सकेंगे कि ऐसी घचनाओं से लड़ने के लिए धरती कितनी तैयार है। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए खुद को तैयार करने के क्रम में NASA और बाकी अंतरिक्ष एजेंसियां जल्द ही एक परीक्षण करने जा रही हैं। यह परीक्षण किसी प्रयोगशाला में नहीं, बल्कि ब्रह्मांड के अंदर वास्तविक स्थितियों में किया जाएगा। अक्टूबर में एक छोटा ऐस्टरॉयड धरती के पास से गुजरने वाला है। इस समय NASA और बाकी एजेंसियां पता लगाने की कोशिश करेंगी कि भविष्य में किन तरीकों और तकनीकों का इस्तेमाल कर धरती को खगोलीय पिंडों के खतरे से बचाया सकता है। कुल मिलाकर कहें तो नासा इस वक्त कड़ी तैयारियों में जुटा है, देखना है कि अक्टूबर में क्या होता है।


Uttarakhand News: Asteroid to flyby near earth in october

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें